नेपोलियन के दो सौ साल पुराने ख़त की नीलामी

  • 3 दिसंबर 2012
नेपोलियन ख़त
Image caption ख़त नेपोलियन के रूस हमले के दौरान लिखा गया था. रूस पर हमला नेपोलियन के लिए ख़तरनाक साबित हुआ.

नेपोलियन की लिखी एक 200-साल पुरानी चिट्ठी एक नीलामी में एक लाख बाईस हज़ार पाउंड में बिकी है.

नेपोलियन की फ़ौज द्वारा रूस पर किए गए हमले के दौरान लिखी गई इस चिट्ठी को पेरिस के म्यूज़ियम ऑफ़ लेटर्स एंड मैनुस्क्रिप्ट ने ख़रीदा है.

कोड वर्ड में लिखे गए ख़त में क्रेमलिन को बम से उड़ा देने की बात कही गई है.

ख़त के साथ उसके अर्थ की प्रतिलिपि भी ख़रीदार को दी गई.

उम्मीद की जा रही थी कि साल 1812 में लिखा गया ख़त दस से पंद्रह हज़ार यूरो के बीच नीलाम हो सकता है.

नेपोलियन ने ये ख़त अपरने विदेश मंत्री हू बर्नर्ड मारेट को लिखा था.

नेपोलियन ने मास्को पर क़ब्ज़ा कर लिया था लेकिन रूस की फ़ौजे वहां से हट गई थीं और जाड़ा शुरू हो गया था और

फ्रांस के शासक को लग रहा था कि उन्हें वापस जाना होगा.

चिट्ठी की पंक्ति में लिखा गया है, "बाईस तारीख़ के तीन बजे मैं क्रेमलिन को उड़ा दूंगा."

ख़त में फ्रांस के शासक की निराशा साफ़ झलकती है जब वो कहते हैं, "मेरे घुड़सवार बूरी हालत में है, बहुत सारे घोड़े मर रहे हैं. कोशिश करें कि हम जितनी जल्द हो नए घोड़े ख़रीद सकें."

संबंधित समाचार