नर्स की मौत: रेडियो स्टेशन करेगा प्रसारण की समीक्षा

Image caption भारतीय मूल की जेसिन्था सल्दान्हा किंग एडवर्ड अस्पताल में नर्स थीं

ब्रिटेन के शाही परिवार से जुड़ी अस्पताल त्रासदी के मामले के केंद्र में रहे ऑस्ट्रेलियाई रेडियो स्टेशन ने कहा है कि वो अपने प्रसारण गतिविधियों की समीक्षा करेगा.

भारतीय मूल की नर्स जेसिन्था सल्दान्हा ऑस्ट्रेलियाई रेडियो स्टेशन से किए गए फर्ज़ी फोन कॉल के तीन दिन बाद मृत पाई गई थीं.

ये फोन कॉल रेडियो स्टेशन के डीजे मेल ग्रेग और माइकल क्रिस्चियन ने महारानी एलिज़ाबेथ और प्रिंस चार्ल्स बनकर किए थे जिसमें उन्होंने किंग एडवर्ड अस्पताल में फोन कर केंब्रिज की राजकुमारी केड मिडल्टन की तबीयत की जानकारी हासिल की थी. राजकुमारी मिडल्टन गर्भावस्था की शुरुआती परेशानियों की वजह से उस समय अस्पताल में भर्ती थीं.

ये फोन कॉल सुबह साढ़े सात बजे किया गया था जबकि अस्पताल में कोई रिसेप्शनिस्ट मौजूद नहीं था.

ऐसे में नर्स जेसिन्था ने ही फोन उठाया था और फर्जी फोन करनेवाले प्रसारकों को राजकुमारी के स्वास्थ्य से जुड़ी सारी जानकारियां मुहैय्या करवा दी थीं.

ऑस्ट्रेलियाई रेडियो स्टेशन 'टू डे एफएम' इस घटना के लिए जिम्मेदार प्रसारकों ग्रेग और माइकल को प्रसारण से हटा दिया है और उन्हें मनोवैज्ञानिक सलाह दी जा रही है.

बोर्ड की बैठक

रविवार को रेडियो स्टेशन का मालिकाना हक़ रखनेवाले सदर्न क्रॉस ऑस्टेरियो के बोर्ड की बैठक हुई जिसमें किंग एडवर्ड अस्पताल से मिली बेहद गंभीर चिट्ठी पर विचार किया गया.

Image caption ऑस्ट्रेलियाई रेडियो स्टेशन 'टू डे एफएम' से अस्पताल में किया गया था फोन

उसके बाद कंपनी के चेयरमैन मैक्स मूर विल्टन ने किंग एडवर्ड सप्तम अस्पताल के चेयरमैन को चिट्ठी लिखकर वादा किया कि कंपनी मामले की जांच में हर संभव मदद करेगी.

उन्होंने कहा, "मैं ये विश्वास दिलाना चाहता हूं कि हम तुरंत कार्रवाई करेंगे और प्रसारण और उससे जुड़ी गतिविधियों की समीक्षा करेंगे."

ब्रिटेन और ऑस्ट्रेलिया में नर्स सल्दान्हा की मौत पर कड़ी प्रतिक्रिया हुई है और इसके लिए कथित रूप जिम्मेदार दोनों प्रसारक गहरे सदमे में हैं जिन्हें मनोवैज्ञानिक सलाह दी जा रही है.

इस बीच, राजकुमार विलियम ने रविवार को लंदन में आयोजित ब्रिटिश मिलिटरी टूर्नामेंट में शामिल नहीं लेने का फैसला लिया है. सेंट जेम्स पैलेस के प्रवक्ता ने बताया कि राजकुमार विलियम प्रतियोगिता में शामिल होने की बजाए अपनी पत्नी और केम्ब्रिज की राजकुमारी केट मिडल्टन के साथ वक्त गुज़ारा चाहते हैं.

फर्जी फोन कॉल वाली घटना तभी हुई थी जब राजकुमारी केट अस्पताल में भर्ती थीं.

संबंधित समाचार