जब जज ने मांगा तलाक मांगने वाली का हाथ

  • 12 दिसंबर 2012
Image caption जज ने देवा के सामने 15 बार शादी का प्रस्ताव दोहराया.

अफगानिस्तान के एक वरिष्ठ जज को गुप्त रिकॉर्डिंग में एक तलाक मांगने वाली महिला से तलाक देने की एवज़ में पैसे और शादी की मांग करते हुए रिकार्ड किया गया है.

रिकॉर्डिंग में जज को एक लाख दस हज़ार अफगानी मुद्रा और महिला से शादी की मांग करते हुए सुना जा सकता है.

इस जज की उम्र 65 साल है और ये रिकॉर्डिंग सामने आने के बाद जज ने इन आरोपों का सख्ती से खंडन किया और कहा कि 'शादी के प्रस्ताव' के बारे में वो मज़ाक कर रहे थे.

तलाक की मांग कर रही महिला देवा ने बीबीसी को बताया कि जब वो जलालाबाद की अदालत में पहुंची तो जज ज़ोराहुद्दीन ने उन्हें घर बुलाया और इस मामले में मदद करने की पेशकश की.

देवा एक रेडियो पत्रकार थी़ और उनके पास रिकॉर्डिंग उपकरण थे जिन्हें वो अपने कपड़ों में छुपाकर ले गई.

उन्होंने बताया, “जब रिश्वत देने की बात शुरु हुई तो मैंने उनकी आवाज़ की रिकॉर्डिंग शुरु कर दी.”

तुम्हें सोने से ढक दूंगा

बीबीसी अफगान सेवा ने इस रिकॉर्डिंग की कॉपी को हासिल की है और इसे सुना है.

इस रिकॉर्डिंग में 65 वर्षीय जज ने अपने लिए 20000 अफगानी मुद्रा की मांग की जबकि एक लाख रुपये उस जज के लिए मांगे जो इस महिला के मामले की सुनवाई कर रहा था.

देवा के अनुसार जब उन्होंने कहा कि वो इतना पैसा नहीं दे सकती और देना नहीं चाहती तो ज़ोर्राहुद्दीन ने उनके सामने दूसरा प्रस्ताव रखा.

एक रिकॉर्डिंग में उन्हें कहते हुए सुना गया कि अगर देवा उनसे शादी कर लेती हैं तो वो उनकी पैसे संबधी समस्याओं को खत्म कर देंगे.

जज को ये कहते हुए सुना गया, “मैं तुम्हें 20 लाख अफगानी मुद्रा दूंगा और तुम्हें सिर से पांव तक सोने से ढक दूंगा.”

इस बातचीत के दौरान देवा की मां उनके साथ थीं और वो अपनी हैरानगी छिपा नहीं पा रही थी. देवा की मां ने बीबीसी को बताया, “मैं बड़ी दुखी थी. मैं अपने आप से कह रही थी कि इस इंसान के बेटे हैं, बहुएं हैं, पत्नि है और ये इंसान हमारी स्थिति का फायदा उठा रहा है.”

बीबीसी ने जब जज से इस मामले बात की तो पहले उन्होंने इंकार कर दिया लेकिन जब उन्हें इसकी रिकॉर्डिंग सुनवाई गई तो उन्होंने कहा कि रेडियो पत्रकार ने अपना हुनर दिखाते हुए आवाज़ से छेड़छाड़ की है.

जज का तर्क

उन्होंने कहा,“ये मेरे खिलाफ विरोधी जजों और स्थानीय दबंगों की साजिश है.”

शादी के प्रस्ताव पर ज़ोराहुद्दीन कहते हैं, “वो कह रहीं थी कि मुझसे कोई शादी नहीं करेगा, तो मैंने मज़ाक में कह दिया था कि मैं तुमसे शादी कर लेता हूं.”

लेकिन 15 मिनट की रिकॉर्डिंग में ज़ोराहुद्दीन ने अपने शादी के प्रस्ताव को 15 बार दोहराया. उन्होंने ये भी बताया कि वो कैसे देवा को बचा सकते हैं.

वो कहते हैं, “अदालत दुश्मनी को ख़त्म नहीं कर सकती, लेकिन जब तुम एक ताकतवर इंसान से शादी करोगी तो वो दुश्मनी को खत्म कर सकता है.”

देवा का परिवार इस रिकॉर्डिंग को लेकर काबुल स्थित सर्वोच्च अदालत में लकर गया लेकिन अभी तक जज के खिलाफ कोई कार्रवाही नहीं की गई है.

तलाक का मामला भी अभी तक अनसुलझा है.

संवाददाताओं का कहना है कि ये मामला दिखाता है कि अफगानिस्तान की न्याय व्यवस्था में भ्रष्टाचार किस हद तक फैला हुआ है.

अफगानिस्तान में भ्रष्टाचार निरोधक विभाग के प्रमुख अज़ीज़ुल्ला लादिन ने इसपर कार्रवाई करने का भरोसा दिलाया है.

बीबीसी से बात करते हुए अज़ीज़ुल्ला ने कहा, “जैसे ही हमें सबूत मिलते हैं, हम सर्वोच्च अदालत के साथ मिलकर इस मामले की जांच करेंगे. मैं इस जांच में मुख्य न्यायधीश को शामिल करुंगा.”

भ्रष्टाचार के खिलाफ कदम उठाने के के लगातार वादे करने वाले अफगानिस्तान के राष्ट्रपति हामिद करज़ई ने अधिकारियों से इस मामले पर भी गौर करने के आदेश दिए हैं.