जापान: चीन कर रहा है घुसपैठ

 गुरुवार, 13 दिसंबर, 2012 को 20:34 IST तक के समाचार

दोनों देशों के बीच लंबे समय से ये विवाद जारी है

चीन के एक विमान ने पूर्वी चीन सागर में विवादित द्वीपों के ऊपर उड़ान भरी है जिसके बाद जापान ने अपने वायुक्षेत्र का उल्लंघन किए जाने का आरोप लगाया है.

जापान ने चीन पर आरोप लगाया है कि चीन के लड़ाकू विमान ने पूर्वी चीन सागर में जापानी वायुक्षेत्र में अनाधिकार प्रवेश किया.

जापान सरकार के प्रवक्ता के मुताबिक चीन के लड़ाकू विमान ने जापानी समय अनुसार 11 बजे वायुक्षेत्र के पास उड़ान भरी.

जापान सरकार के प्रवक्ता ओसामू फुजीमूरा ने इस घुसपैठ पर कड़ा एतराज़ जताया है. उन्होंने चीन से इस बारे में कड़ा विरोध दर्ज कराया.

विवाद

चीन और जापान के बीच विवाद का नक्शा

चीन और जापान के बीच कुछ द्वीपों को लेकर महीनों से विवाद चल रहा है.

जापान में इन द्वीपों को सेनकाकू के नाम से जाना जाता है जबकि चीन के लोग इसे तियाओयू के नाम से जानते हैं.

जापान ने जहां इस घटना को निंदनीय करार दिया है वहीं चीनी विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता होंग लाई ने अपने लडा़कू विमान की उड़ान को 'बेहद सामान्य' घटना करार दिया है.

उनके अनुसार ये द्वीप प्राचीन समय से चीन के रहे हैं. जापान ने इस साल कुछ निजी जापानी मालिकों से इन द्वीपों को खरीदा है और उसके बाद से दोनों देशों के बीच इन्हें लेकर गंभीर विवाद चल रहा है.

जापान के रक्षा मंत्रालय का कहना है कि 1958 में रिकॉर्ड रखे जाने के बाद से ये पहला मौका है जब जापान ने अपने वायुक्षेत्र में चीन के किसी सरकारी विमान की घुसपैठ होने की बात कही है.

जापान का कहना है कि पिछले साल भी दो चीनी सैन्य विमानों ने इस क्षेत्र के आसपास उड़ान भरी थी लेकिन वो जापान के वायुक्षेत्र में दाखिल नहीं हुए थे.

इसे भी पढ़ें

टॉपिक

BBC © 2014 बाहरी वेबसाइटों की विषय सामग्री के लिए बीबीसी ज़िम्मेदार नहीं है.

यदि आप अपने वेब ब्राउज़र को अपडेट करते हुए इसे स्टाइल शीट (सीएसएस) के अनुरूप कर लें तो आप इस पेज को ठीक तरह से देख सकेंगे. अपने मौजूदा ब्राउज़र की मदद से यदि आप इस पेज की सामग्री देख भी पा रहे हैं तो भी इस पेज को पूरा नहीं देख सकेंगे. कृपया अपने वेब ब्राउज़र को अपडेट करने या फिर संभव हो तो इसे स्टाइल शीट (सीएसएस) के अनुरुप बनाने पर विचार करें.