मलाला को अस्पताल से छुट्टी मिली

  • 4 जनवरी 2013
मलाला युसुफ़ज़ई
Image caption हालांकि मलाला युसुफ़ज़ई को मुल्क में समर्थन हासिल हुआ लेकिन तालिबान ने कहा है कि वो उनपर फिर हमला करेगा.

तालिबानी हमले में निशाना बनी पाकिस्तानी लड़की मलाला यूसुफज़ई को अस्पताल से छुट्टी मिल गई है.

लड़कियों की पढ़ाई-लिखाई और दूसरे अधिकारों को लेकर बहुत मुखर रहीं मलाला को तालिबान ने गोली मारी थी लेकिन वो बच गईं.

गोली लगने के बाद उन्हें इलाज के लिए ब्रिटेन के एक अस्पताल में भर्ती करवाया गया था. अस्पताल से छुट्टी के बाद वो वेस्ट मिडलैंड जा रही हैं जहां उनका परिवार ठहरा हुआ है.

अस्पताल ने कहा है कि जनवरी या फरवरी में उनके सिर के एक हिस्से की सर्जरी की जाएगी.

'अस्पताल आना जारी रहेगा'

चिकित्सकों ने कहा है कि उनकी बाँईं आँख के ऊपर लगी गोली उनके भेजे को छूती हुई निकल गई थी.

बर्मिंघम के अस्पताल ने अपने बयान में कहा है कि उन्हें उम्मीद है कि अस्पताल से छुट्टी के बाद भी उनकी सेहत में सुधार जारी रहेगा.

डॉक्टर डेव रॉसर ने कहा है कि मलाला एक बहुत बहादुर लड़की हैं और लोगों की देखभाल से उनकी सेहत में बहुत सुधार आया है.

उन्होंने कहा मलाला अस्पताल आती रहेंगी जहां चिकित्सकों की टीम उनका इलाज करेगी.

पाकिस्तान की सरकार ने बुधवार को घोषणा की थी कि मलाला के पिता को बर्मिंघम में नौकरी दे दी गई है.

संबंधित समाचार