बलात्कार पीड़ित के पक्ष में लंदन में लगे नारे

 मंगलवार, 8 जनवरी, 2013 को 13:10 IST तक के समाचार
लंदन में विरोध प्रदर्शन

भारत में भी सामूहिक बलात्कार के दोषियों को कड़ी सज़ा देने की मांग उठ रही है

दिल्ली में क्लिक करें सामूहिक बलात्कार का शिकार हुई लड़की के साथ न्याय की मांग करते हुए लंदन में सैकड़ों लोगों ने भारतीय उच्चायोग के समक्ष प्रदर्शन किया है.

प्रदर्शन का आयोजन लंदन स्थित महिला मानवाधिकार समूह 'साउथॉल ब्लैक सिस्टर्स' ने किया जिसके बैनर तले अलग-अलग वर्गों से महिलाओं और पुरुषों ने इसमें भाग लिया.

ब्रितानी-एशियाई फिल्मकार गुरिंदर चढ्ढा भी पति के साथ इस प्रदर्शन में पहुंचीं.

गुरिंदर चढ्ढा कहती हैं, ''मैं यहां इसलिए आई हूं क्योंकि इस अपराध ने मुझे बहुत भीतर तक हिलाकर रख दिया है. भारत कई मामलों में एक होनहार देश है जहाँ आम लोग किसी भी अन्याय के खिलाफ अपनी पूरी ताकत लगा सकते हैं.''

वे कहती हैं, ''लेकिन सरकार जब तक इन लोगों की आकांक्षाओं पर खरी नहीं उतरती, संघर्ष जारी रहना चाहिए.''

लंदन स्कूल ऑफ इकोनॉमिक्स के छात्रों ने भी इस प्रदर्शन में हिस्सा लिया. ऐसे ही एक छात्र का कहना था, ''इस मामले में हमें एकजुटता दिखाने की जरूरत है. बलात्कार एक विश्वव्यापी समस्या है. इस मामले ने बस इस बात की जरूरत की ओर ध्यान खींचा है कि अब कुछ करना जरूरी हो गया है.''

प्रदर्शनकारी 'वी वॉन्ट जस्टिस' और 'हल्ला बोल' जैसे नारे लगा रहे थे. तीन घंटे तक चला यह प्रदर्शन शांतिपूर्ण रहा.

इस प्रदर्शन के मद्देनज़र इंडिया हाउस के आस-पास किसी तरह की अव्यवस्था को रोकने के लिए कुछ पुलिस वालों को भी तैनात किया गया था.

इसे भी पढ़ें

टॉपिक

BBC © 2014 बाहरी वेबसाइटों की विषय सामग्री के लिए बीबीसी ज़िम्मेदार नहीं है.

यदि आप अपने वेब ब्राउज़र को अपडेट करते हुए इसे स्टाइल शीट (सीएसएस) के अनुरूप कर लें तो आप इस पेज को ठीक तरह से देख सकेंगे. अपने मौजूदा ब्राउज़र की मदद से यदि आप इस पेज की सामग्री देख भी पा रहे हैं तो भी इस पेज को पूरा नहीं देख सकेंगे. कृपया अपने वेब ब्राउज़र को अपडेट करने या फिर संभव हो तो इसे स्टाइल शीट (सीएसएस) के अनुरुप बनाने पर विचार करें.