पाकिस्तान में सिख की सिर कटी लाश बोरे में मिली

 गुरुवार, 10 जनवरी, 2013 को 11:51 IST तक के समाचार
सिख की सिर कटी लाश मिली

मोहिंदर सिंह का अंतिम संस्कार कर दिया गया है

पाकिस्तान के कबाइली इलाक़े खैबर एजेंसी में एक सिख हकीम को अगवा किए जाने के एक महीने बाद उनकी सिर कटी लाश मिली है.

खबरें है कि एक चरमपंथी गुट ने कथित तौर पर मोहिंदर सिंह को एक दूसरे गुट के लिए जासूसी करने के आरोप में कत्ल किया है.

समाचार एजेंसी पीटीआई के अनुसार अधिकारियों ने बताया कि तौहीदुल इस्लाम नाम के चरमपंथी संगठन ने इस हत्या की जिम्मेदारी ली है.

मोहिंदर सिंह का जमरूद इलाके में चौरा नाम की जगह पर एक दवाखाना था और वो रोजाना पेशावर से वहां जाते थे. एक महीने पहले अज्ञात लोगों ने उनका अपहरण कर लिया.

पाकिस्तान के अखबार डॉन की खबर है कि मोहिंदर सिंह की सिर कटी लाश मिली. लाश को एक बोरे में भर कर फेंकने से पहले विकृत भी किया गया था.

'किसी से दुश्मनी नहीं'

"हमारी किसी से कोई दुश्मनी नहीं थी और हमें खैबर एजेंसी में शांति से रहते हुए 60 साल से भी ज्यादा समय हो गया है."

मृतक के भाई

स्थानीय लोगों का कहना है कि लाश के पास एक लिखित बयान भी मिला है.

लोगों ने बताया कि इस बयान में एक हथियारबंद गुट तौहीदुल इस्लाम ने कहा है कि मोहिंदर सिंह विरोधी गुट लश्कर-ए-इस्लाम के लिए जासूसी करते थे और इसी वजह से उनकी हत्या की गई.

मोहिंदर सिंह के भाई दसवंत सिंह ने उनके शव की पहचान की.

दसवंत सिंह ने बताया, “हमारी किसी से कोई दुश्मनी नहीं थी और हमें खैबर एजेंसी में शांति से रहते हुए 60 साल से भी ज्यादा समय हो गया है.”

उन्होंने बताया कि उनके परिवार ने तौहीदुल इस्लाम से संपर्क करके मोहिंदर के बार में पूछा था लेकिन उन्होंने इस बारे में कोई जानकारी होने से इनकार कर दिया.

इसे भी पढ़ें

टॉपिक

BBC © 2014 बाहरी वेबसाइटों की विषय सामग्री के लिए बीबीसी ज़िम्मेदार नहीं है.

यदि आप अपने वेब ब्राउज़र को अपडेट करते हुए इसे स्टाइल शीट (सीएसएस) के अनुरूप कर लें तो आप इस पेज को ठीक तरह से देख सकेंगे. अपने मौजूदा ब्राउज़र की मदद से यदि आप इस पेज की सामग्री देख भी पा रहे हैं तो भी इस पेज को पूरा नहीं देख सकेंगे. कृपया अपने वेब ब्राउज़र को अपडेट करने या फिर संभव हो तो इसे स्टाइल शीट (सीएसएस) के अनुरुप बनाने पर विचार करें.