कहाँ है आज सद्दाम के बेटे का 'बॉडी डबल'

 सोमवार, 21 जनवरी, 2013 को 08:01 IST तक के समाचार

लतीफ याहिया (बाँए) का रोल फिल्म में डोमिनिक कूपर ने किया था

पूर्व इराक़ी सैनिक लतीफ याहिया ख़ुद को सद्दाम हुसैन के बेटे के ‘बॉडी डबल’ बताते हैं. यानी उदय हुसैन के ऐसे हमशक्ल जो खतरे वाली स्थितियों या अहम मौकों पर उनकी जगह जाते थे.

सद्दाम हुसैन और उदय हुसैन कई साल पहले मारे गए लेकिन लतीफ याहिया की ज़िंदगी मानो थम सी गई है.

उनकी शादी आयरलैंड की एक महिला से हुई है और उनका बच्चा भी आयरिश है लेकिन उन्हें आयरिश नागरिकता नहीं मिल रही. उनकी लड़ाई 11 साल से जारी है.

लतीफ इराक़ी सेना में लेफ्टिनेंट थे और उनका कहना है कि 1983 में उन्हें जबरन उदय हुसैन का बॉडी डबल बनाया गया था.

सद्दाम हुसैन और उनके दोनों बेटे जब अहम राजनीतिक समाराहों में जाते थे तो अपने बॉडी डबल को भेजते थे.

लतीफ बाद में सीआईए की मदद से इराक़ से भागने में सफल रहे थे. उनका दावा है कि जब इराक़ ने कुवैत पर हमला किया था तो इराक़ी सैनिकों को उदय हुसैन बनकर उन्होंने ही संबोधित किया था.

प्लेबॉय, हत्यारा....

बाद में लतीफ ने आयरिश महिला से शादी कर ली. फिलहाल में बेल्जियम में है जहाँ आयरिश इंडिपेनडेंट अखबार के कानूनी मामलों के संपादक डीयरबहेल ने लतीफ से बात की.

संपादक ने बीबीसी को बताया, “लतीफ ने कहा कि वे बहुत आहत हैं कि न्याय मंत्री ने कोई फैसले लेने से मना कर दिया है. लतीफ की शिकायत थी कि उनकी शादी आयरिश महिला से हो चुकी है, बच्चा आयरिश है और इसी आधार पर पहले नागरिकता मिल जाती थी लेकिन अब ऐसा नहीं कर रहे. लतीफ ने कहा कि अगर कल को आयरलैंड में उसकी मौत हो जाती है तो विदेश में मरने वाला एक विदेशी होकर रह जाएगा.”

ये स्पष्ट नहीं है कि पहले किस आधार पर लतीफ की नागरिकता की अर्जी नामंज़ूर की गई थी. लतीफ याहिया की आत्मकथा पर पिछले साल द डेविल्स डबल नाम की फिल्म भी बनी थी.

अंतरराष्ट्रीय स्तर पर उदय हुसैन की छवि प्लेबॉय की थी. लेकिन इराक़ में वो अपहरण, लड़कियों की हत्या और बलात्कर, विरोधियों की प्रताड़ना के लिए जाने जाते थे.

बाद में तो उनका अपने पिता सद्दाम हुसैन से भी रिश्ता खराब हो गया था क्योंकि एक पार्टी में सद्दाम के एक निजी सेवक की हत्या कर दी थी.

इसे भी पढ़ें

BBC © 2014 बाहरी वेबसाइटों की विषय सामग्री के लिए बीबीसी ज़िम्मेदार नहीं है.

यदि आप अपने वेब ब्राउज़र को अपडेट करते हुए इसे स्टाइल शीट (सीएसएस) के अनुरूप कर लें तो आप इस पेज को ठीक तरह से देख सकेंगे. अपने मौजूदा ब्राउज़र की मदद से यदि आप इस पेज की सामग्री देख भी पा रहे हैं तो भी इस पेज को पूरा नहीं देख सकेंगे. कृपया अपने वेब ब्राउज़र को अपडेट करने या फिर संभव हो तो इसे स्टाइल शीट (सीएसएस) के अनुरुप बनाने पर विचार करें.