लड़की के बेसुध होने का इंतज़ार किया और फिर...

 बुधवार, 23 जनवरी, 2013 को 12:07 IST तक के समाचार
यौन उत्पीड़न के अभियुक्त

यौन उत्पीड़न के चारों अभियुक्तों की उम्र 19 से 21 वर्ष के बीच है

इंग्लैंड के ब्राइटन में एक ऐसा वाक़या सामने आया है जहां नशे में धुत्त एक किशोरी का कुछ स्थानीय फुटबॉल खिलाड़ियों ने यौन उत्पीड़न किया और उसकी अधनंगी तस्वीरें खींच लीं.

यह घटना जुलाई 2011 की बताई जाती है और अब यह मामला अदालत में है.

अदालत में हुई सुनवाई के दौरान पता चला है कि एंटन रोजर्स, लेविस डंक, जॉर्ज बेकर और स्टीव कुक ने मैच जीतने की खुशी में शराब पी. पीड़ित लड़की भी नशे में थी जिसे वे अपने साथ होटल के कमरे में ले गए जहां उसका यौन उत्पीड़न किया गया.

'बेसुध होने का फायदा उठाया'

"यह एक ऐसा मामला है जिसमें युवा पेशेवर फुटबॉल खिलाड़ियों ने जीत के जश्न में शराब पीकर एक लड़की का हालत फायदा उठाया जो खुद नशे में थी और स्वाभाविक रूप से विरोध की स्थिति में नहीं थी."

रिचर्ड ब्रेटन, अभियोजन के वकील

अदालत में मामले की सुनवाई के पहले दिन अभियोजन के वकील रिचर्ड ब्रेटन ने कहा, ''यह एक ऐसा मामला है जिसमें युवा पेशेवर फुटबॉल खिलाड़ियों ने जीत के जश्न में शराब पीकर एक लड़की की हालत का फायदा उठाया जो खुद नशे में थी और स्वाभाविक रूप से विरोध की स्थिति में नहीं थी.''

उनका कहना है, ''लड़की को होटल ले जाकर इन खिलाड़ियों ने उसके बेसुध होने का इंतज़ार किया और इसके बाद उसका यौन उत्पीड़न किया.''

अदालत को बताया गया कि पीड़ित लड़की डर के मारे इस बारे में पुलिस को छह महीने तक कुछ नहीं बता पाई, लेकिन जब अन्य फुटबॉल खिलाड़ियों ने उसे ताने कसने शुरु कर दिए जिसके बाद उसने इस घटना की शिकायत की.

अभियोजन के वकील रिचर्ड ब्रेटन ने कहा, ''लड़की विरोध करने या सहमति देने या घटना को रोकने की स्थिति में नहीं थी.''

पीड़ित लड़की की तरफ से अदालत को बताया गया कि इन खिलाड़ियों ने बेसुध हालत में उसकी अधनंगी तस्वीरें उतारीं और जब इन तस्वीरों को मिटाने का आग्रह किया तो उन्होंने इससे इनकार कर दिया.

इस मामले में मुकदमे की सुनवाई अभी जारी है.

इसे भी पढ़ें

टॉपिक

BBC © 2014 बाहरी वेबसाइटों की विषय सामग्री के लिए बीबीसी ज़िम्मेदार नहीं है.

यदि आप अपने वेब ब्राउज़र को अपडेट करते हुए इसे स्टाइल शीट (सीएसएस) के अनुरूप कर लें तो आप इस पेज को ठीक तरह से देख सकेंगे. अपने मौजूदा ब्राउज़र की मदद से यदि आप इस पेज की सामग्री देख भी पा रहे हैं तो भी इस पेज को पूरा नहीं देख सकेंगे. कृपया अपने वेब ब्राउज़र को अपडेट करने या फिर संभव हो तो इसे स्टाइल शीट (सीएसएस) के अनुरुप बनाने पर विचार करें.