चीन: महिला को मिली मुर्दाघर में कैद

 शनिवार, 26 जनवरी, 2013 को 02:51 IST तक के समाचार

मुर्दाघर में कैद की सज़ा पर सोशल मीडिया में काफी चर्चा हो रही है. फाइल तस्वीर एएफपी

चीन में एक महिला को मुर्दाघर में कैद की सज़ा दिए जाने पर वहां की सोशल मीडिया में काफी चर्चा हो रही है.

सरकारी मीडिया के अनुसार चेन चिंगशिया ने अपने पति को लेबर कैंप में यातना देने का विरोध किया था, जिसके बाद उसे तीन साल के लिए एक खाली मुर्दाघर में कैद की सज़ा मिली.

चेन 18 महीनों की सज़ा पहले ही एक आम कारगार में काट चुकी थीं, लेकिन लगातार विरोध करने के चलते उन्हें तीन साल तक मुर्दाघर में बंद करने का आदेश सुना दिया गया.

चेन की सेहत खराब बताई जा रही है और सोशल मीडिया में इस मुद्दे और उनकी हालत पर खूब चर्चा हो रही है.

लेकिन संवाददाताओं का कहना है कि इस महिला को जल्दी ही राहत मिल सकती है.

शिकायत के बदले जेल

ग्लोबल टाइम्स अखबार के मुताबिक चेन की परेशानी उस समय शुरु हुई जब साल 2003 में उनके पति को सार्स महामारी के दौरान अलग रखे गए संक्रमित लोगों के लिए बनाए गए नियम को तोड़ने के लिए जेल की सज़ा सुनाई गई.

जब उन्हें छोड़ा गया तब उनके शरीर पर चोट के कई निशान थे और उनकी मानसिक हालत इतनी खराब हो गई थी कि चेन ने बीजिंग जाकर अधिकारियों से शिकायत करने का मन बनाया.

लेकिन उसकी शिकायत के जवाब में उन्हें ही 18 महीनों के जेल की सज़ा हो गई.

कारावास खत्म होने पर उसे मुर्दाघर भेज दिया गया क्योंकि वो अपनी बात पर अभी भी अड़ी हुई थी और अपना संघर्ष जारी रखना चाहती थी.

चीन के रेडियो के मुताबिक चेन को अपने किसी भी करीबी रिश्तेदार से नहीं मिलने दिया जा रहा है.

इसे भी पढ़ें

BBC © 2014 बाहरी वेबसाइटों की विषय सामग्री के लिए बीबीसी ज़िम्मेदार नहीं है.

यदि आप अपने वेब ब्राउज़र को अपडेट करते हुए इसे स्टाइल शीट (सीएसएस) के अनुरूप कर लें तो आप इस पेज को ठीक तरह से देख सकेंगे. अपने मौजूदा ब्राउज़र की मदद से यदि आप इस पेज की सामग्री देख भी पा रहे हैं तो भी इस पेज को पूरा नहीं देख सकेंगे. कृपया अपने वेब ब्राउज़र को अपडेट करने या फिर संभव हो तो इसे स्टाइल शीट (सीएसएस) के अनुरुप बनाने पर विचार करें.