ब्राज़ील: नाइट क्लब में आग, 245 की मौत

 रविवार, 27 जनवरी, 2013 को 20:34 IST तक के समाचार
ब्राज़ील आग

ब्राज़ील की मीडिया में आ रही ख़बरों में कहा गया है कि देश के दक्षिणी शहर सांता मारिया के एक नाइट क्लब में आग लगने की वजह से कम से कम 245 लोग मारे गए हैं.

पुलिस और सरकारी अधिकारियों ने बताया कि दक्षिणी ब्राजील के यूनीवर्सिटी शहर में यह हादसा हुआ.

खबरों के मुताबिक लोग बाहर निकलने की कोशिश कर रहे थे और इससे हुई भगदड़ की वजह से हालत और बिगड़ गई.

कई लोगों की मृत्यु जहरीले धुएं में दम घुंटने से हो गई. आग पर काबू पाया जा चुका है और दुर्घटना स्थल से शव हटाए जा रहे हैं.

बड़ी संख्या में लोग घायल भी हुए हैं जिन्हें अस्पताल में भर्ती कराया गया है. स्थानीय मीडिया का कहना है कि रविवार तड़के दो बजे के आसपास आग तब भड़की जब आतिशबाज़ी की जा रही थी.

एक स्थानीय प्रत्यक्षदर्शी ने बताया कि नाइट क्लब से बाहर निकलने का एक ही रास्ता था जिसकी वजह से लोग बाहर नहीं निकल सके.

माना जा रहा है कि मारे गए ज्यादातर लोग स्थानीय यूनिवर्सिटी के छात्र हैं.

दहशत

नाइट क्लबों में आग की घटनाएं

  • 2009: सैंतिका क्लब, बैंकॉक, थाईलैंड, 66 की मौत
  • 2009: लेम हॉर्स क्लब, पर्म, रूस, 150 की मौत
  • 2003: द स्टेशन, रोड आईलैंड, अमरीका, 100 की मौत
  • 1996: ओज़ोन डिस्को क्लब, फिलीपींस, 160 की मौत
  • 1990: हैप्पी लैंड, न्यूयॉर्क, अमरीका, 89 की मौत
  • 1977: बेवरली हिल्स, सुपर क्लब, साउथगेट, केंटुकी, 165 की मौत
  • 1970: सेंट लॉरेंट पोंट, फ्रांस, 146 की मौत
  • 1942: कोकोनट ग्रोव, बोस्टन, अमरीका, 492 की मौत

अग्निशमन विभाग के प्रमुख गुइडो डी मेलो ने स्थानीय मीडिया को बताया, ''कितने लोग मारे गए हैं, इस बारे में अभी कुछ कहा नहीं जा सकता है. आग लगने की वजह से लोग दहशत में आ गए और भगदड़ मच गई.''

अधिकारियों का कहना है कि घटनास्थल से गाढ़ा धुंआ निकल रहा था और अग्निशमन कर्मचारियों को लोगों को बाहर निकालने के लिए एक दीवार तोड़नी पड़ी.

ब्राजील के राष्ट्रपति डिलमा राउजेफ के प्रवक्ता ने बताया कि राष्ट्रपति अपनी चिली यात्रा स्थगित करके वापस लौट रही हैं.

घटना के समय नाइट क्लब में एक बैंड का प्रदर्शन चल रहा था और माना जा रहा है कि वहां 300 से 500 लोग मौजूद थे.

अधिकारियों ने बताया कि आग लगने से वहां गहरा धुआं फैल गया.

स्थानीय अग्निशमन विभाग के अधिकारी सार्जंट आर्थर रीग ने बीबीसी से कहा, "मैंने अपने पूरे करियर में ऐसा हादसा नहीं देखा. इनमें ज्यादातर नौजवान थे. उनके शव बिखरे हुए हैं. कुछ शव शौचालय में भी है. उनकी मृत्यु दम घुटने से हुई है".

इसे भी पढ़ें

BBC © 2014 बाहरी वेबसाइटों की विषय सामग्री के लिए बीबीसी ज़िम्मेदार नहीं है.

यदि आप अपने वेब ब्राउज़र को अपडेट करते हुए इसे स्टाइल शीट (सीएसएस) के अनुरूप कर लें तो आप इस पेज को ठीक तरह से देख सकेंगे. अपने मौजूदा ब्राउज़र की मदद से यदि आप इस पेज की सामग्री देख भी पा रहे हैं तो भी इस पेज को पूरा नहीं देख सकेंगे. कृपया अपने वेब ब्राउज़र को अपडेट करने या फिर संभव हो तो इसे स्टाइल शीट (सीएसएस) के अनुरुप बनाने पर विचार करें.