चीनी मीडिया में छाया सेक्स वीडियो का मामला

  • 1 फरवरी 2013
ले जंगफू
ले जंगफू को वीडियो के लीक हो जाने के बाद बर्खास्त कर दिया गया था.

चीन की मीडिया में मुख्यतौर पर भ्रष्टाचार के दो मुख्य मामले छाए हुए हैं.

चीन के सरकारी टेलीविज़न 'चाइना सेंट्रल टेलीविज़न' और समाचार एजेंसी 'शिन्हुआ' से आ रही रिपोर्टों के अनुसार चांगकिंग में कम्युनिस्ट पार्टी के आंतरिक मामलों की निगरानी रखने वाली इकाई ने उस सेक्स वीडियो मामले को न्यायकि विभाग को सौंप दिया है जिसकी वजह से 11 अधिकारियों को बर्खास्त कर दिया गया था.

दरअसल चांगकिंग जिले के पार्टी सचिव ले जंगफू को उस वीडियो के लीक हो जाने के बाद बर्खास्त कर दिया गया जिसमें उन्हें होटल के एक कमरे में युवा लड़की के साथ सेक्स करते हुए फिल्माया गया था.

इस वीडियो के स्टिल भी लिए गए थे और ऐसी रिपोर्टें है कि साल 2008 में इस वीडियो से ये स्टिल लिए गए थे.

साउथ चाइना मोर्निंग पोस्ट की रिपोर्ट के मुताबिक चांगकिंग की पुलिस ने इस वीडियो में फिल्माई गई महिला को वसूली के आरोप में गिरफ्तार किया है. लेकिन इस महिला का कहना है कि एक स्थानीय निर्माण कंपनी ने उनकी सोच में परिवर्तन किया और उन्हें एक अधिकारी के साथ सेक्स करने और उसे गुप्त तरीके से रिकॉर्ड करने के लिए कहा गया ताकि कंपनी उसका फायदा उठा सके.

आरोप

इस बीच इन तस्वीरों का पर्दाफाश करने वाले बीजिंग के पत्रकार चू रुइफेंग ने सरकारी मीडिया को बताया है कि ये वीडियो चांगकिंग पुलिस के पास हैं.

एक साझात्कार में चू रुइफेंग ने कहा है कि उनके पास अधिकारियों के और टेप हैं और उन्होंने ये टेप चोंगकिंग पुलिस को देने से इनकार कर दिया है. उन्होंने पुलिस पर आरोप लगाया है कि वो भ्रष्ट अधिकारियों को बचाने के लिए इन्हें दबाने की कोशिश कर रही है.

चाइना सेंट्रल टेलीविज़न पर आने वाली रिपोर्ट के मुताबिक भ्रष्टाचार के एक दूसरे मामले में शान्शी में काम करने वाले पूर्व बैंकर गोंग आईआई की संपति, एक ऑडी कार को बीजिंग पुलिस ने जब्त कर लिया है.

गोंग ने राजधानी में धोखाधड़ी करके 41 संपतियां ख़रीदी जिसके बाद उन्हें कथित तौर पर 'एलडर सिस्टर ऑफ प्रोपर्टी'का उपनाम भी दे दिया था.

चुप्पी

चीन में प्रदूषण के खतरे को लेकर लोग नीतियों पर सवाल उठाने लगे हैं.

इस बीच कई मीडिया संस्थान उस आरोप पर चुप्पी साधे हुए जिसमें चीनी हैकरों के ' द न्यूयॉर्क टाइम्स'और 'द वॉल स्ट्रीट' पर हमला करने का आरोप लगाया गया था.

हालांकि चीन के विदेश और रक्षा मंत्रालय ने इन आरोपों का खंडन किया था.

चाइना सेट्रल टेलीविज़न के मुताबिक चीन में कई भागों में प्रदूषण की वजह से छाई चादर छटने लगी है.

लेकिन ग्लोबल टाइम्स की रिपोर्ट के मुताबिक वहां बारिश की वजह से गुरुवार को 2000 दुर्घटना हुई हैं.

इकॉनॉमिक इन्फोरमेशन डेली में छपी रिपोर्ट के मुताबिक तेल कंपनियां भी विवाद के केंद्र में हैं हालांकि सरकारी तेल कंपनी सिनोपेक के प्रमुख ने तेल की गुणवत्ता के मानको को प्रदूषण के लिए जिम्मेदार बताया है.

(बीबीसी मॉनिटरिंग दुनिया भर के टेलीविजन, रेडिया, वेब और प्रिंट माध्यमों में प्रकाशित होने वाली ख़बरों का विश्लेषण करता है.)

संबंधित समाचार