हार्वर्ड ने छात्रों को दिखाया बाहर का रास्ता

  • 2 फरवरी 2013
हॉवर्ड
Image caption नकल के मामले में फंसे हॉवर्ड के छात्र राजनीति शास्त्र विषय में स्नातक कर रहे थे

अमरीका के प्रतिष्ठित हार्वर्ड विश्वविद्यालय ने परीक्षा में नकल करने के मामले में दर्जनों छात्रों पर प्रतिबंध लगाया है. विश्वविद्यालय के डीन ने ईमेल कर छात्रों को इस बारे में सूचना दी है.

जिन 125 छात्रों पर नकल के मामले में जांच चल रही है उनमें आधे से ज्यादा छात्रों को कुछ वक्त के लिए विश्वविद्यालय छोड़ने के लिए कहा गया है. वहीं दूसरे छात्रों को जांच का सामना करना पड़ेगा.

जब शिक्षकों की निगाह स्नातक स्तर के राजनीतिशास्त्र से जुड़े पाठ्यक्रम की परीक्षा में दिए गए समान तरह के उत्तर पर गई, तब जांच शुरू हुई.

विश्वविद्यालय के अख़बार हॉवर्ड क्रिंमसन का कहना है, “इस पाठ्यक्रम में नामांकन कराने वाले 279 छात्रों में से करीब आधे छात्र जांच के दायरे में हैं.”

संवाददाताओं का कहना है कि ‘इंट्रोडक्शन टू कांग्रेस’ क्लास के परीक्षा के नियमों की अस्पष्टता और विश्वविद्यालय के जांच के तरीकों को लेकर शिकायत की जा रही है.

जांच है जारी

हालांकि विश्वविद्यालय के सदस्यों को भेजे गए एक ईमेल में फैकल्टी ऑफ आर्टस ऐंड साइंसेज के डीन माइकल स्मिथ का कहना है कि इस मामले को सुलझा लिया गया है.

उनके मुताबिक आधे से ज्यादा मामले निवेदन करने पर हटा लिए गए हैं.

उनका कहना है कि करीब आधे छात्रों की अनुशासनात्मक जांच कराई जा रही है और बाकी को दोषमुक्त करार दिया गया है

नकल के मामले में फंसे कुछ छात्र हॉवर्ड स्पोर्टस टीम के सदस्य भी हैं. बास्केटबॉल के दो सह-कप्तान को टीम से बाहर कर दिया गया है. जबकि विश्वविद्यालय के अख़बार में पहले आई ख़बरों के मुताबिक इस मामले में फुटबॉल, बेसबॉल और आइस हॉकी खिलाड़ी भी हो सकते हैं.

विश्वविद्यालय के डीन का कहना है कि संस्थान में ईमानदारी की भावना कैसे बढ़ाई जाए इससे जुड़ी सिफारिशों की पेशकश एक आंतरिक समिति करेगी.

संबंधित समाचार