उत्तर कोरिया परमाणु परीक्षण: चीन में बेचैनी

Image caption उत्तर कोरिया के परमाणु परीक्षण से चीन में बेचैनी.

उत्तरी कोरिया के परमाणु परीक्षण और चीनी कंपनियों पर अमरीकी पाबंदी ने चीन में नए साल के जश्न को फ़ीका कर दिया है.

चीनी मीडिया में उत्तर कोरिया के परमाणु परीक्षण की ख़बर छाई हुई है. पहले पहल इस ख़बर को चीन की सेंट्रल टेलीविजन ने दिखाया.

ग्लोबल टाइम्स की रिपोर्ट में कहा गया है कि उत्तर कोरिया का ये परमाणु परीक्षण 20 हजार टन न्यूक्लियर विस्फोट के बराबर है.

चीन की सरकारी मीडिया में कहा गया है कि परमाणु परीक्षण से जिलिन प्रांत में निवासियों को एक मिनट से भी ज़्यादा समय तक झटके महसूस हुए. हालांकि इलाके में जान माल को कोई नुकसान नहीं हुआ.

पाबंदी का विरोध

चीनी सेंट्रल टेलीविजन और बीजिंग टाइम्स की ख़बरों के मुताबिक चीन की चार अहम कंपनियों पर अमरीकी पाबंदी का विरोध देखने को मिला है.

इन कंपनियों पर इसलिए पाबंदी लगाई गई है क्योंकि ये ईरान, उत्तर कोरिया और सीरिया में हथियारों के विकास में हिस्सा ले कर अमरीकी कानून का उल्लंघन कर रही हैं.

इस पाबंदी के चलते अब इन कंपनियों को अमरीकी कंपनियों का अनुबंध नहीं मिल पाएगा और ना ही अमरीका में अपने उत्पादों को निर्यात करने का लाइसेंस ही हासिल होगा.

चीनी सेंट्रल टेलीविजन (सीसीटीवी) पर विदेश मंत्रालय की एक महिला प्रवक्ता ने कहा, “चीनी कंपनियों पर अमरीकी नियमों के मुताबिक पाबंदी लगाई गई है जो अंतरराष्ट्रीय संबंधों और चीन के हितों का नुकसान पहुंचाने वाली हैं.”

इस प्रवक्ता ने आगे कहा, “चीनी सरकार अमरीका से इस ग़लती को तुरंत सुधारने की अपील कर रही है. उन्हें बिना वजह लगाई गई इन पाबंदियों को हटाना चाहिए.”

सीसीटीवी पर पाबंदी झेल रही एक कंपनी पॉली टेक्नालॉजी को. लिमिटेड का बयान भी दिखाया गया है, जिसमें कहा गया है कि कंपनी ने अमरीकी कानूनों का उल्लंघन नहीं किया है.

हांगकांग की साउथ चाइना मार्निंग पोस्ट के मुताबिक पॉली टेक्नालॉजी सरकार की कंपनी है जिसकी शुरुआत पीपल्स लिबरेशन आर्मी ने की थी.

ख़तरों से भरा नया साल

चीनी समाचार एजंसी शिन्हुआ की ख़बरों में बताया गया है कि चीनी की समुद्री पनडुब्बियों ने विवादास्पद डियायू द्वीप की निगरानी दूसरे दिन भी जारी रखी है. इस द्वीप पर जापान का नियंत्रण है.

चीनी न्यूज़ सर्विस की ख़बरों में चीनी सेना के उस कथन को प्रमुखता दी गई है जिसमें कहा गया है कि चीन के पूर्वी समुद्री बेड़े के आसपास एक अमरीकी विमान निगरानी करता दिखा है.

पीपल्स नेट की ख़बरों के मुताबिक चीन बर्मा और रुस के साथ मिलकर अमरीका और थाईलैंड के नेतृत्व मे चल रहे बहुराष्ट्रीय सैन्य अभ्यास कोबरा गोल्ड पर नजर बनाए हुए है.

चीनी मीडिया में नए साल को चुनौतीपूर्ण बताने वाली ख़बरों की भी भरमार है. एक मंदिर में हुए सामारोह में हुए परंपरागत आयोजन में अनलकी ड्रॉ निकलने के बाद बताया गया है कि हांगकांग को नए साल में ज़्यादा ख़तरा है.

ओरिएंटल डेली न्यूज़ की ख़बरों में हांगकांग के लोगों को बुरी नीयत वाले लोगों से सावधान रहने की अपील की गई है.

साउथ चाइना मार्निंग पोस्ट की ख़बर के मुताबिक इससे पहले 2009 में भी अनलकी ड्रॉ निकला था, तब दुनिया में आर्थिक मंदी आई और 2003 में अनलकी ड्रॉ निकलने पर शहर में साँस संबंधी रोगों से सैकड़ों लोगों की मौत हुई थी.

(बीबीसी मॉनिटरिंग दुनिया भर के टीवी, रेडियो, वेब और प्रिंट माध्यमों में प्रकाशित होने वाली ख़बरों पर रिपोर्टिंग और विश्लेषण करता है. बीबीसी मॉनिटरिंग की अन्य खबरों को पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करें. आप बीबीसी मॉनिटरिंग की खबरें ट्विटर और फेसबुक पर भी पढ़ सकते हैं.)

संबंधित समाचार