क्या मालदीव के पूर्व राष्ट्रपति नाशीद शरण चाहते हैं?

  • 13 फरवरी 2013
नाशीद
Image caption मोहम्मद नाशीद को पुलिस विद्रोह के बाद सत्ता छोड़नी पड़ी थी

मालदीव के पूर्व राष्ट्रपति मोहम्मद नाशीद की गिरफ़्तारी का वॉरंट जारी होने के बाद नाशीद राजधानी माले में स्थित भारतीय दूतावास में ही मौजूद हैं.

वहाँ उन्होंने भारतीय राजदूत डीएम मुलै से मुलाक़ात की है.

इधर भारतीय विदेश मंत्री सलमान ख़ुर्शीद ने संवाददाताओं से बातचीत में कहा है कि अभी तक नाशीद की ओर से शरण की माँग नहीं की गई है.

भारतीय दूतावास से ही उन्होंने सोशल नेटवर्किंग साइट ट्विटर पर संदेश लिखते हुए कहा कि वह अपनी सुरक्षा को लेकर सतर्क हैं.

उधर उनकी पार्टी के एक प्रवक्ता ने कहा है कि नाशीद तब तक भारतीय दूतावास में ही रहेंगे जब तक उनकी गिरफ़्तारी के वॉरंट के ख़िलाफ़ उनकी अपील पर कोई फ़ैसला नहीं आ जाता.

दूतावास

उधर दंगा निरोधक पुलिस दस्ता भारतीय दूतावास के इर्द-गिर्द मौजूद है. नाशीद पर आरोप है कि उन्होंने सत्ता में रहते हुए अधिकारों का दुरुपयोग किया.

इस मामले में जब वह अदालत में पेश नहीं हुए तो एक अदालत से उनकी गिरफ़्तारी का आदेश जारी हुआ.

अब चूँकि नाशीद भारतीय दूतावास में मौजूद हैं इसलिए पुलिस बल किसी भी सूरत में वहाँ नहीं जा सकता. ऐसे में पुलिस के पास सिवाय इंतज़ार के कोई चारा भी नहीं है.

नाशीद को पुलिस विद्रोह के बीच पिछले साल फ़रवरी में सत्ता छोड़नी पड़ी थी. उन्होंने उस समय कहा था कि ये विद्रोह पूर्व राष्ट्रपति मॉमून अब्दुल ग़यूम के इशारे पर किया गया था.

संबंधित समाचार