लंदन में सैकड़ों फर्ज़ी शादी कराने वाले वकील को जेल

  • 20 फरवरी 2013
फर्जी शादियां
Image caption ब्रिटेन में इस तरह की शादियों के ढेरों मामले देखे गए हैं

लंदन में एक वकील को सैकड़ों फर्ज़ी शादियां कराने के लिए दस साल जेल की सजा सुनाई गई है.

39 वर्षीय तेवफिक सुलेमान को पिछले हफ्ते आव्रजन कानून के उल्लंघन का षड़यंत्र रचने का दोषी करार दिया गया था. इस मामले में सुलेमान के अलावा उनके कई और साथियों को भी दोषी करार दिया गया है.

जज जॉन ब्रेवन के मुताबिक सुलेमान ने 2004 से 2012 के बीच ऐसी बहुत सी शादियां कराईं जिनमें पूर्वी यूरोप की महिलाएं ब्रिटेन आती थीं और पैसे लेकर यरोपीय संघ के बाहर के देशों के लोगों से शादी रचातीं और उसके अगले दिन ही वापस अपने देश में चली जाती थीं.

इस तरह शादी करने वाले पुरूषों को ब्रिटेन का वीजा पाने में आसानी होती थी.

बड़ा घपला

जज ब्रेवन के अनुसार इतने बड़े स्तर पर और इतनी सफाई से किया गया घपला मिलना मुश्किल है.

जज ब्रेवन ने इस मामले में कड़ी टिप्पणी करते हुए कहा, “वकीलों पर कानून को कायम रखने की बड़ी जिम्मेदार होती है. अगर लोग उन पर भरोसा नहीं कर सकते हैं, तो फिर किस पर करेंगे. आपने इस भरोसे को तोड़ा है.”

इसी तरह के मामले में एक अन्य इमिग्रेशन कंपनी के 39 वर्षीय जफर अल्तिंबास को भी दोषी करार दिया गया था और उन्हें छह साल और नौ महीने की सजा सुनाई गई.

माना जाता है कि इस तरह की फर्ज़ी शादियों की बदौलत लगभग 1800 लोग ब्रिटेन में रह रहे हैं जिनमें अल्बानियाई माफिया के लोग भी हैं.

Image caption फायदे के लिए ऐसे लोगों की शादियां कराई गईं जो एक दूसरे को जानते तक नहीं थे

इनमें पूर्वी यूरोप की महिलाएं सिर्फ ऐसी शादियां करने के लिए ब्रिटेन आती थीं और रजिस्ट्रार के दफ्तर में ऐसे पुरूषों से शादियां करती थी जिनसे वो कभी मिली भी नहीं हैं. लगभग आठ वर्ष तक ये सब चलता रहा.

इस तरह की शादी के लिए सुलेमान 14 हजार पाउंड लेते थे. वो इसके लिए किराए का मकान का फर्जी अनुबंध, नौकरी पर रखने वाले का फर्जी संपर्क और दूसरे दस्तावेज तैयार कराते थे.

इतना ही नहीं, इस धंधे से होने वाली कमाई का बड़ा हिस्सा ब्रिटेन से बाहर भी भेजा गया.

इस पूरे मामले का पता उस वक्त चला जब ब्रितानी पुलिस ने अल्बानिया के माफिया और लंदन से पैसा गैर कानूनी तौर पर बाहर भेजे जाने पर कार्रवाई की.

संबंधित समाचार