‘फोर्ब्स ने मेरी दौलत कम आंकी’

  • 6 मार्च 2013
Image caption शहजादे अल वलीद ने पिछले साल ही ट्विटर में तीन प्रतिशत हिस्सेदारी खरीदी थी.

सऊदी अरब के शहज़ादे अल वलीद बिन तालाल ने आरोप लगाया है कि फोर्ब्स मैगज़ीन ने उनकी दौलत को कम करके आंका है.

फोर्ब्स की 2013 की सूची में शहजादे अल वलीद की कुल संपत्ती 20 बिलयन डॉलर आकी गई है और उन्हें इस सूची में 26 वां स्थान हासिल हुआ है.

लेकिन शहजादे के अनुसार उनकी दौलत 29.6 बिलयन डॉलर है और इस हिसाब से उन्हें शीर्ष 10 में होना चाहिए.

फोर्ब्स पत्रिका का कहना है कि उन्हें पता चला कि शहजादे ने अपनी दौलत को बढ़ा-चढ़ा कर बताया है जिसके बाद उनके दावों पर गंभीरता से गौर किया है.

रैकिंग प्रभावित करने की कोशिश

फोर्ब्स पत्रिका में छपे एक लेख में लिखा है कि शहज़ादे अल वलीद ने पत्रिका की रैंकिग को प्रभावित करने की भरपूर कोशिश की और उन्होंने पहले भी कई बार फोर्ब्स पत्रिका के आकलन की शिकायतें की हैं.

मैगज़ीन ने दावा किया, “हमारी सूची में कुल 1426 अरबपतियों के नाम शामिल हैं. दंभ से भरे हुए डॉनल्ड ट्रम्प ने भी अपनी रैंकिग को प्रभावित करने की कोशिश नहीं की.”

शहज़ादे के पूर्व सहयोगियों का हवाला देते हुए फोर्ब्स पत्रिका कहती है कि फोर्ब्स पत्रिका की रैकिंग उनके लिए बहुत मायने रखती है.

जानिए कौन हैं दुनिया के रईस

दोष किसका?

शहजादे अल वलीद के ऑफिस ने दावा किया है कि मैगज़ीन के दौलत आंकने के तरीकों में दोष है और ये तरीके ‘मध्यपूर्व के निवेशकों को कम करके दिखाने के लिए’ बनाए गए हैं.

इनका आरोप है कि मैगज़ीन ने सऊदी अरब की तादावुल स्टॉक एक्सचेंज में लिस्टिड शेयरों को स्वीकार करने से इंकार कर दिया, जबकि मैक्सिको जैसे अन्य उभरते हुए बाज़ारों के शेयर मूल्यों को स्वीकार किया गया है.

शहजादे अल वलीद के ऑफिस का कहना है कि उन्होंने फोर्ब्स से शहज़ादे का नाम अमीरों की सूची से हटाने के लिए अनुरोध किया था.

उनके ऑफिस ने ये भी कहा है कि उन्होंने फोर्ब्स पत्रिका से सभी संबध तोड़ लिए हैं और वो आगे फोर्ब्स की पत्रिका के साथ संपत्ती आकलन में सहयोग नहीं करेंगे.

शहजादे की कंपनी किंगडम होलडिंग कंपनी के मुख्य वित्तिय अधिकारी शादी सनबर कहते हैं, “हमने बीते वर्षों में खुलकर फोर्ब्स पत्रिका के साथ सहयोग किया है और कई बार हमने उन्हें उनके आकलन के तरीके पर शिकायत की है और कहा है कि इस तरीके को सुधारने की ज़रुरत है.”

शहजादे अल वलीद की कंपनी किंगडम होलडिंग कंपनी की कई होटल कंपनियों में हिस्सेदारी है और उन्होंने न्यूज़ कॉर्पोरेशन में निवेश भी किया है.

फोर्ब्स के अनुसार शहजादे अल वलीद ने पिछले साल ही 300 मिलियन डॉलर में ट्विटर में तीन फीसदी हिस्सेदारी खरीदी थी.

संबंधित समाचार