उभार दिखाओ, नाइट क्लब में मुफ़्त प्रवेश पाओ

Image caption सांसदों ने नाइट क्लब के इस अभियान की काफी आलोचना की है

ब्रिटेन के रोचेस्टर में एक नाइट क्लब ने अपने प्रचार-प्रसार के लिए ऐसे तरीक़े अपनाए हैं कि वहां के सांसदों ने उस पर ख़ासी नाराज़गी जताई है.

रोचेस्टर के कैसिनो रूम्स नाइट क्लब ने अपने यहां आने वाली उन महिलाओं को मुफ़्त में प्रवेश देने की पेशकश की है जो इतने संकीर्ण कपड़े पहन कर आएं कि उनके उभार दिखते रहें.

ये नाइट क्लब अपने इस अभियान को “राष्ट्रीय क्लीवेज वीकेंडर” नाम से प्रचारित कर रहा है. साथ ही विज्ञापन में महिलाओं की ऐसी ही तस्वीरें भी लगा रखी हैं जो कि ऐसे कपड़े पहने हुए हैं.

पोस्टर की भाषा

विज्ञापन के लिए जारी पोस्टरों में लिखा गया है कि उन अपने उभारों को दिखाते हुए रात को 11 बजे से पहले आने वाली महिलाओं के लिए नि:शुल्क प्रवेश है. साथ में ये भी लिखा है कि ये सुविधा सिर्फ़ केंट के सबसे बड़े और स्तन पार्टी वाली जगह पर उपलब्ध है.

इसके अलावा पोस्टर में लिखा है, “यहां स्तन का आकार नहीं, सिर्फ़ प्रस्तुतीकरण मायने रखता है.”

चैथम और आयल्सफोर्ड से कंजर्वेटिव पार्टी के सांसद ट्रेसी क्राउच कहते हैं, “ये बेहद घिनौना और महिलाओं को नीचा दिखाने वाला कृत्य है, ख़ासकर ऐसे समय में जबकि हम ये कोशिश कर रहे हैं कि हर आकार-प्रकार की महिलाओं की क़द्र हो.”

वो कहते हैं कि ये प्रचार पाने का बहुत ही सतही और दिशाहीन तरीक़ा है.

वहीं हेकनी नॉर्थ और स्टोक नेविंग्टन से लेबर पार्टी के सांसद डिएन एबट ने भी इसकी आलोचना की है. उन्होंने इसकी तुलना ‘एवरीडेसेक्सिम’ यानी हर दिन होने वाले लैंगिक भेदभाव से की है.

एवरीडे सेक्सिम परियोजना की स्थापना पत्रकार लॉरा बेट्स ने लैंगिक भेदभाव की घटनाओं को सूचीबद्ध करने के लिए किया था.

नाइट क्लब ने जब से अपने अभियान की शुरुआत की है तब से लाखों लोग सोशल मीडिया के माध्यम से अपनी मौजूदगी दर्ज करा चुके हैं.

संबंधित समाचार