धूम्रपान पर लगी रोक से बची दस हजार जानें

  • 7 अप्रैल 2013
सिगरेट
Image caption न्यूयॉर्क में 2003 में स्मोक फ्री एयर एक्ट लागू किया गया था

न्यूयॉर्क के अधिकारियों का कहना है कि सार्वजनिक स्थानों में धूम्रपान पर प्रतिबंध लगने से शहर में पिछले दस सालों में 10000 लोगों को असमय काल के गाल में जाने से बचाया जा सका है.

न्यूयॉर्क में सार्वजनिक स्थानों में धूम्रपान पर प्रतिबंध लगाए जाने के दस साल पूरे हो गए हैं. स्मोक फ्री एयर एक्ट 2003 में लागू किया गया था.

शहर के मेयर माइकल ब्लूमबर्ग ने कहा कि न्यूयॉर्क के बाशिदों की धूम्रपान की लत छूट रही है और उनका जीवनकाल बढ़ रहा है.

(क्या आपने बीबीसी हिन्दी का नया एंड्रॉएड मोबाइल ऐप देखा ? डाउनलोड करने के लिए यहां क्लिक करें)

उन्होंने कहा कि जब ये प्रतिबंध लगाया गया था तो आलोचकों ने आशंका जताई थी कि इससे रेस्त्रां और बार व्यवसाय बुरी तरह प्रभावित होगा लेकिन उनकी ये आशंका निर्मूल साबित हुई.

झटका

हालांकि मेयर ने साथ ही कहा कि शुगर वाले पेय पदार्थों की बिक्री पर रोक लगाने की कोशिशों पर कोर्ट ने रोक लगा दी है. उन्होंने कहा कि इसके ख़िलाफ़ अपील की जाएगी.

ब्लूमबर्ग ने एक बयान में कहा, “दस साल पहले जब न्यूयॉर्क सिटी में रेस्त्रां और बार में धूम्रपान पर प्रतिबंध लगाया गया था तो कई लोगों ने कहा कि इससे हॉस्पिटेलिटी, रेस्त्रां और पर्यटन इंडस्ट्रीज़ खत्म हो जाएंगी.”

उन्होंने कहा, “आज़ दस साल बाद शहर में धूम्रपान करने वालों की तादाद घट गई है, हमारी इंडस्ट्रीज़ फलफूल रही हैं और कोई भी धुएं से भरे बार और रेस्त्रां की वापसी नहीं चाहता है.”

न्यूयॉर्क स्वास्थ्य विभाग द्वारा जारी की गई एक रिपोर्ट के मुताबिक 2002 की तुलना में 2011 में धूम्रपान करने वाले वयस्कों की संख्या 21.5 प्रतिशत से घटकर 15 प्रतिशत रह गई है.

लेकिन अधिकारियों ने साथ ही चेताया है कि धूम्रपान अब भी शहर में होने वाली मौतों का मुख्य कारण है.

संबंधित समाचार