राष्ट्रपति को दिया ऊँट मेज़बान मारकर खा गए

  • 11 अप्रैल 2013
Image caption माली के अधिकारियों ने होलांड को उपहार के रूप में एक ऊँट दिया था

माली के अधिकारियों का कहना है कि वो फ्रांस के राष्ट्रपति को एक और ऊँट भेट करेंगे क्योंकि फरवरी में उन्हें भेंट किए गए ऊँट को मारकर खा लिया गया था.

समाचार एजेंसी रॉयटर्स के अनुसार इसी साल फरवरी में जब फ्रांस के राष्ट्रपति फ्रांसवां ओलांड माली के शहर टिम्बकटू आए थे तो उन्हें एक ऊँट भेंट किया गया था.

बहुत बड़ा होने के नाते ओलांड इसे अपने साथ नहीं ले जा सके थे और उन्होंने उस ऊँट को टिम्बकटू में एक परिवार के हवाले कर दिया था ताकि वो वहां सुरक्षित रह सके.

लेकिन इस ऊँट को वहां मार डाला गया और उसके गोश्त को लोग खा गए.

शर्मनाक घटना

फ्रांसीसी अधिकारियों ने शुरू में तो इस ऊँट को फ्रांस के चिड़ियाघर में रखने की योजना बनाई थी, लेकिन उसे वहां तक ले जाने की समस्या को देखते हुए तय हुआ कि इसे यहीं किसी के पास छोड़ दिया जाए.

एक पत्रिका के मुताबिक हाल ही में कैबिनेट की बैठक के दौरान फ्रांस के रक्षा मंत्री ने उँट की मौत की खबर राष्ट्रपति को दी थी.

रॉयटर्स ने माली के एक अधिकारी का बिना नाम छापे उसके हवाले से लिखा है, “जैसे ही हमने इस बारे में सुना, हमने तुरंत उसके बदले में एक दूसरा ऊँट देने का फैसला किया जो कि पहले वाले से बड़ा भी है और सुंदर भी.”

अधिकारी के मुताबिक, “नए ऊँट को पेरिस भेजा जाएगा. जो कुछ भी हुआ है, हम उसके लिए बेहद शर्मिंदा हैं. ये एक उपहार था जिसके साथ ये सलूक नहीं करना चाहिए था.”

जनवरी महीने में फ्रांस ने माली में अपनी सेनाएं भेजी थीं ताकि देश के उत्तरी हिस्सों को इस्लामी चरमपंथी समूहों से बचाने में ये माली की सेना की मदद कर सकें.

माली में इस वक्त करीब चार हज़ार फ्रांसीसी सैनिक हैं जो कि माली, चाड और कुछ अन्य अफ्रीकी सेनाओं की मदद कर रहे हैं.

फ्रांस के रक्षा मंत्री के मुताबिक इस हफ्ते से उसने माली से अपने सैनिकों को वापस बुलाना शुरू कर दिया है.

संबंधित समाचार