ईरान में भूकंप से 40 मौतें

ईरान से आ रही ताज़ा ख़बरों के मुताबिक़ वहां 40 लोगों के मारे जाने की आशंका है. लेकिन अपुष्ट ख़बरों के मुताबिक़ कुछ अधिकारियों को डर है कि मृतकों की संख्या और बढ़ सकती है.

अमरीका के भूगर्भ सर्वेक्षण यानी यूएसजीएस के मुताबिक़ इस भूकंप का केंद्र दक्षिण पश्चिमी ईरान के पास था, जहां भूकंप की तीव्रता रिक्टर पैमाने पर 7.8 आंकी गई.

ईरान स्थित भूकंप का केंद्र पाकिस्तान की सीमा के पास खाश शहर से 86 किलोमीटर दूर था. ये ईरान में पिछले कई सालों में आया सबसे बड़ा भूकंप है.

भारतीय समयानुसार दिन साढे़ चार बजे के क़रीब नई दिल्ली और आसपास के इलाक़ों में भूकंप के तेज़ झटके महसूस किए गए.

भूकंप के झटके

इन इलाक़ों में रहने वालों के अनुसार एक मिनट के अंदर लगभग चार-पांच तेज़ झटके महसूस किए गए.

Image caption भूकंप के आते ही दुबई के दफ्तर से लोग बाहर निकल आए.

भूकंप के झटके खाड़ी और मध्यपूर्व के देशों में भी महसूस किए गए.

इससे पहले,10 अप्रैल को ईरान में आए भूकंप में कम से कम 37 लोग मारे गए थे और 850 से ज़्यादा घायल हो गए थे. ये भूकंप 6.3 तीव्रता का था.

बुशेहर स्थित ईरान के एक मात्र परमाणु बिजली घर के संचालकों का कहना है कि भूकंप से संयत्र को कोई नुक़सान नही पहुंचा है.

पाकिस्तान में बीबीसी फ़ारसी सेवा के संवाददाता मोहम्मद वज़ीर का कहना है कि कराची और क्वेटा में भी भूकंप के तेज़ झटके महसूस किए गए.

संबंधित समाचार