बॉस्टन के संदिग्ध 'और हमले करना चाहते थे'

  • 22 अप्रैल 2013
बॉस्टन
Image caption इस हमले में 170 से ज्यादा लोग घायल हुए, जिसमें से 50 से ज्यादा लोग अभी भी अस्पताल में हैं.

अमरीका में बॉस्टन के पुलिस कमिश्नर का दावा है कि मैराथन धमाके में संदिग्ध सारनाइफ़ भाई संभवत भविष्य में और हमले की योजना बना रहे थे.

शहर के पुलिस कमिश्नर एड डेविस ने सीबीएस न्यूज़ को बताया है कि ज़ोख़र और तमरलान सारनाएफ़ ने पुलिस पर घर में बनाए हुए बम और ग्रेनेड से उस समय हमला किया जब उन्हें घेरने की कोशिश की गई.

अमरीका में ज़ोख़र सारनाएफ़ से सवाल-जवाब करने के लिए पूछताछ करने वाला एक उच्च समूह इंतजार कर रहा है.

शुक्रवार को पुलिस अभियान के दौरान दोनों तरफ से हुई गोलीबारी में वे घायल हो गए थे. वे अस्पताल में है और उनकी हालत गंभीर है.

हालांकि दोनों तरफ से हुई गोलीबारी में ज़ोख़र के बड़े भाई की मौत हो गई थी.

सोमवार को बॉस्टन में हुए दो धमाकों में आठ साल के एक लड़के, 29 साल की एक महिला और एक चीनी छात्रा की मौत हो गई थी जबकि 170 से ज्यादा लोग ज़ख्मी हुए हैं.

हमले की योजना

गुरुवार को इन दोनों भाइयों को पकड़ने के लिए चलाए गए 24 घंटे के अभियान में एक पुलिस अधिकारी की मौत हो गई और एक परिवहन अधिकारी गंभीर रुप से घायल हो गया था.

गुरुवार की रात दोनों भाइयों और पुलिस के बीच भिड़ंत हुई जिसमें तमरलान की मौत हो गई थी .

सीबीएस के कार्यक्रम 'फ़ेस द नेशन' में डेविस ने कहा, ''हमें घटनास्थल पर मिले सबूतों के आधार पर, ये यकीन करने का कारण मिलता है कि उनके पास धमाका करने के लिए विस्फोटक और बारुद मौजूद थे और उनकी अन्य लोगों पर हमला करने की योजना थी.''

उनका कहना था, ''इस समय निजी तौर पर ये मेरा मानना है.''

डेविस ने और जानकारी देते हुए कहा कि घटनास्थल से 250 राउंड कारतूस मिले और ''ज़मीन पर अत्याधुनिक विस्फोटक बिखरे हुए थे जिनमें विस्फोट किया जा सकता था.''

वहीं एक और विस्फोटक उस कार में पाया गया जिसें इन भाइयों ने चुरा लिया था.

उनके अनुसार अधिकारी इन भाइयों द्वारा इस्तेमाल किए गए हथियारों का पता लगाने की कोशिश में लगे हैं और 'ये जांच के लिए अहम होगा'.

संबंधित समाचार