पाकिस्तान: चुनावी काफिले पर हमला, पांच मरे

  • 7 मई 2013
पाकिस्तान चुनाव
Image caption पाकिस्तान में उम्मीदवारों पर लगातार हमले हो रहे हैं

पाकिस्तान में चु्नाव प्रचार के दौरान उम्मीदवारों पर चरमपंथी हमलों का सिलसिला जारी है. मंगलवार को खैबर पख्तून ख्वाह प्रांत के हंगू इलाके में जमीयत उलेमा-ए-इस्लाम के काफिले को निशाना बनाया गया.

हंगू पुलिस ने बीबीसी को बताया कि चरमपंथियों के धमाके में पांच लोग मारे गए हैं. इसका निशाना जेयूआई (एफ) के उम्मीदवार मुफ्ती जानान खान का काफिला था.

बीबीसी विशेष: पाकिस्तान आम चुनाव 2013

जमीयत उलेमा-ए-इस्लाम (एफ) के किसी उम्मीदवार पर ये 24 घंटों के भीतर दूसरा हमला है.

इससे पहले सोमवार को कुर्रम एजेंसी में इसी धार्मिक पार्टी के उम्मीदवार मुनीर औरकजई की चुनावी सभा में धमाका हुआ था जिसमें 25 लोगों के मारे जाने की पुष्टि हो गई है.

तालिबान की धमकी

पाकिस्तानी तालिबान ने सोमवार को हमले की जिम्मेदारी ली. तालिबान ने कहा कि ये हमला इसलिए नहीं किया गया कि वहां जमीयत उलेमा-ए-इस्लाम की जनसभा हो रही थी, बल्कि हमला इसलिए किया गया कि मुनीर औरकजई ने इस्लाम और मुजाहिदीन के खिलाफ अपराध किए हैं.

लेकिन मंगलवार को होने वाले धमाके की जिम्मेदारी अभी तक किसी ने नहीं ली है.

आम चुनावों की घोषणा के बाद से ही पाकिस्तान के कबायली इलाकों और खैबर पख्तून ख्वाह में हिंसक घटनाओं में इजाफा देखने को मिला है.

पाकिस्तान में 11 मई को संसद और प्रांतीय असेंबलियों के लिए वोट डाले जाएंगे जिनके लिए चुनाव प्रचार इन दिनों जोरों पर है.

उधर पेशावर में तालिबान की तरफ से बांटे जा रहे पर्चों में आम लोगों से कहा गया है कि वो चुनावों में वोट डालने न जाएं और मतदान केंद्रों से दूर ही रहें.

संबंधित समाचार