बॉस्टन धमाके के संदिग्ध का हुआ अंतिम संस्कार

Image caption बोस्टन धमाकों में तीन लोगों की मौत हो गई थी और कई लोग घायल हुए थे

पिछले दिनों बॉस्टन में बम धमाके के संदिग्ध तमरलान सारनाएफ़ को मासाच्यूसेट्स के पास एक अज्ञात स्थान पर दफना दिया गया.

पुलिस की ओर से जारी एक बयान में कहा गया है, “सारनाएफ़ का शव वोरसेस्टर शहर में नहीं है और उसे दफ़ना दिया गया है.”

पिछले महीने हुए बम धमाकों के बाद दोषियों की तलाश के दौरान सारनाएफ़ की मौत हो गई थी. इन धमाकों में तीन लोगों की मौत हो गई थी और 260 से ज्यादा लोग घायल हो गए थे.

अधिकारी पिछले कई दिनों से कोशिश कर रहे थे कि सारनाएफ़ के मृत शरीर को लेने के लिए कोई आए, लेकिन ऐसा नहीं हो सका. आख़िरकार अधिकारियों ने खुद ही उन्हें दफ़ना दिया.

पिछले हफ्ते कई प्रदर्शनकारियों ने उनके शरीर को लेकर वोरसेस्टर स्थित कब्रिस्तान को घेर रखा था.

मुठभेड़

पुलिस के बयान में कहा गया है, “मदद के लिए हमारी सार्वजनिक अपील के बाद एक साहसी व्यक्ति आगे आया और उसने मृतक के अंतिम संस्कार में काफी मदद की.”

बयान में उस समुदाय के लोगों को धन्यवाद दिया गया है जिन्होंने शव को दफ़नाने के लिए जगह उपलब्ध कराई. सारनाएफ़ और उनके भाई गत 15 अप्रैल को मैराथन स्थल पर हुए विस्फोट की साज़िश में मुख्य अभियुक्त हैं.

पुलिस के साथ हुई मुठभेड़ के दौरान सारनाएफ़ अपने भाई के साथ भाग गए थे. इस दौरान गोली से घायल हुए उनके भाई ज़ोख़र इस समय जेल के अस्पताल में भर्ती हैं.

ये दोनों भाई रूस के चेचेन क्षेत्र से संबंध रखते हैं और करीब एक दशक से अमरीका में रह रहे थे.

तमरलान की पत्नी कैथरीन रसेल ने उनका शव लेने से इनकार कर दिया था. इसके बाद उनके परिवार वालों ने उस पर दावा किया ताकि उनके अंतिम संस्कार का इंतजाम हो सके.

संबंधित समाचार