अस्सी साल के जापानी ने किया एवरेस्ट फतह

एवरेस्ट
Image caption यूचीरो मिउरा ने इससे पहले दो बार एवरेस्ट पर चढ़ाई की कोशिश की थी.

जापान के 80 साल के एक पर्वतारोही माउंट एवरेस्ट की चोटी पर पहुंचने वाले सबसे बुजुर्ग व्यक्ति बन गए हैं.

इनका नाम यूचीरो मिउरा है. यूचीरो ने इससे पहले 70 और फिर 75 साल की उम्र में भी चढ़ाई करने की कोशिश की थी, लेकिन गुरुवार को ही वो एवरेस्ट की चोटी पर पहुंचने में क़ामयाब हुए.

इस उम्र में दुनिया की सबसे ऊंची एवरेस्ट की चोटी पर पहुंच कर उन्होंने नेपाल के मंत्री बहादुर शेरचान का रिकॉर्ड तोड़ दिया है.

मंत्री बहादुर शेरचान ने साल 2008 में 76 की उम्र में एवरेस्ट की चोटी पर पहुंचने का रिकॉर्ड कायम किया था.

हालांकि अब 81 साल के हो चुके शेरचान अगले हफ्ते फिर से एवरेस्ट पर पहुंचने की तैयारी कर रहे हैं.

जापान की मीडिया में आने वाली रिपोर्टों के अनुसार मिउरा ने 29,035 फुट ऊंची चोटी पर पहुंचने के लिए गुरुवार को सुबह दो बजे चढ़ाई शुरू की थी लेकिन सात घंटे बाद ही वे चोटी पर पहुंच पाए.

'मैंने कर दिखाया'

चोटी पर पहुंच कर मिउरा ने सैटेलाइट फोन के जरिए अपने परिवार और समर्थकों से बात करते हुए कहा, ''मैंने कर दिखाया.''

उनका कहना था, ''मैंने कभी नहीं सोचा था कि मैं 80 साल की उम्र में एवरेस्ट की चोटी पर पहुंच सकूँगा. मैं काफ़ी अच्छा महसूस कर रहा हूं हालांकि मैं पूरी तरह से थक चुका हूं. 80 साल की उम्र होने के बावजूद मैं कर सकता हूं.''

नेपाल के एक पर्वतारोहण अधिकारी ने समाचार एजेंसी एपी को मिउरा के एवरेस्ट की चोटी पर पहुंचने की पुष्टि की है.

समाचार एजेंसी रॉयटर के मुताबिक मिउरा के साथ तीन अन्य जापानी पर्वतारोही भी थे जिनमें उनके बेटे और छह अन्य शेरपा थे.

एक ज़माने में वे स्कीइंग में वर्ल्ड स्पीड स्कीइंग रिकॉर्ड भी बना चुके है. साल 2009 में उनके कूल्हे और बांए जांघ की हड्डी टूट गई थी और उनके दिल का कई बार ऑपरेशन हो चुका है.

एवरेस्ट पर चढ़ाई से पहले उन्होंने कहा था कि एवरेस्ट पर चढ़ाई करके वे अपनी सीमाओं को चुनौती देने के साथ 'महान प्रकृति मां को भी सम्मान' दे रहे हैं.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए यहां क्लिक करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार