ग़द्दाफ़ी की संपत्ति की दक्षिण अफ़्रीक़ा में जांच

  • 3 जून 2013
गद्दाफी
Image caption लीबिया में साल 2011 में हुए विद्रोह के बाद गद्दाफी को मार दिया गया था

दक्षिण अफ़्रीक़ा के अधिकारी उन दावों की जांच कर रहे हैं जिनमें कहा गया है कि पूर्व लीबियाई नेता मोउम्मर ग़द्दाफ़ी और उनके परिवार ने एक अरब डॉलर की संपत्ति यहां छिपा कर रखी हुई थी.

ऐसी रिपोर्टें है कि लीबिया की मौजूदा सरकार ने दक्षिण अफ़्रीक़ा में रखे हीरा, सोना और नक़दी की वापसी के लिए मदद मांगी है.

लीबिया के जांचकर्ताओं के हवाले से दी गई रिपोर्टों के अनुसार दक्षिण अफ़्रीक़ा में ग़द्दाफ़ी की ये संपत्ति चार बैंको और सुरक्षा कंपनियों में जमा की गई थी.

कुछ लोग ये भी अनुमान लगाते हैं कि ग़द्दाफ़ी की कुल विदेशी संपति 80 अरब डॉलर तक हो सकती है.

संपति

Image caption गद्दाफी के बेटे सैफ़ अल इस्लाम पर भी मुकदमा चल रहा है

लीबिया में साल 2011 में हुए विद्रोह के बाद ग़द्दाफ़ी उस समय पकड़कर मार दिए गए थे जब वे अपने गृहनगर सिर्ते से भागने की कोशिश कर रहे थे.

लीबिया के लोगों का मानना है कि ग़द्दाफ़ी या उनके परिवार की जो भी संपत्ति है वो सरकारी संपत्ति है और उसे वापस लौटा दिया जाना चाहिए.

दक्षिण अफ़्रीक़ा के वित्त मंत्री परवीन गॉर्धन के प्रवक्ता के हवाले से देश के संडे टाइम्स अख़बार में छपी एक ख़बर के अनुसार, ''लीबियाई सरकार के प्रतिनिधि होने का दावा करने वाले एक गुट ने दक्षिण अफ़्रीक़ा के वित्त मंत्रालय से संपर्क किया है. हम उनके उन दावों की जांच कर रहे हैं जिनमें ये कहा गया है कि ग़द्दाफ़ी की संपत्ति दक्षिण अफ़्रीक़ा में है.''

इस बारे में दक्षिण अफ़्रीक़ा स्थित लीबियाई दूतावास के अधिकारी सालेह मरघनी का कहना था, ''अफ़्रीक़ा में ग़द्दाफ़ी की संपत्ति का पता लगाने और उसे हासिल करने के लिए अधिकारियों की नियुक्ति की गई है और ये लीबिया की जनता के लिए किया गया है.''

इस अख़बार ने लीबिया के न्याय और वित्त मंत्रियों के दक्षिण अफ़्रीक़ा में अपने समकक्षों को लिखे गए पत्रों के सार छापे है जिसमें ग़द्दाफ़ी की संपत्ति का पता लगाने के लिए मदद मांगी गई है. ये संपत्ति अवैध रुप से हासिल की गई होगी जिसे दक्षिण अफ़्रीक़ा में जमा या फिर छिपाई गई होगी.

अख़बार के अनुसार लीबिया के जांचकर्ताओं ने गॉर्धन और राष्ट्रपति जैकब ज़ुमा से भी मुलाका़त कर इस संपत्ति का पता लगाने और उसकी वापसी के बारे में विचार विमर्श किया है.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर क्लिक करें फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

संबंधित इंटरनेट लिंक

बीबीसी बाहरी इंटरनेट साइट की सामग्री के लिए ज़िम्मेदार नहीं है