9/11 के कथित साज़िशकर्ता वैक्यूम क्लीनर बनाना चाहते थे

9/11 हमला
Image caption साल 2003 में अपनी गिरफ्तारी के बाद खालिद शेख मोहम्मद.

9/11 हमलों के कथित मास्टरमाइंड खालिद शेख मौहम्मद ने सीआईए से एक अजीबोग़रीब मांग की थी. मेकैनिकल इंजीनियरिंग की पढ़ाई करने वाले ख़ालिद शेख़ वैक्यूम क्लीनर बनाना चाहते थे.

एसोसिएटेड प्रेस के अनुसार पाकिस्तान में जन्मे खालिद शेख मोहम्मद ने साल 2003 में रोमानिया की जेल में वैक्यूम क्लीनर बनाने की इच्छा जाहिर की थी.

लेकिन अधिकारियों ने उनकी बात अनसुनी कर दी थी.

ख़ालिद शेख़ घरेलू उपकरणों को डिजाइन करने के बारे में इंटरनेट पर मौजूद सामग्री पढ़ते रहते थे.

खालिद शेख मोहम्मद को साल 2003 में गिरफ्तार किया गया और फिर पोलैंड में उनसे कड़ी पूछताछ की गई.

इस दौरान उन्हें सोने नहीं दिया जाता था. साथ ही वॉटरबोर्डिंग ( टॉर्चर का विवादास्पद तरीका) के ज़रिए उनको प्रताड़ित भी किया गया था.

वॉटरबोर्डिंग पूछताछ के लिए अपानाया जाने वाला वह तरीक़ा है जिसमें बंधक को लगता है कि वह डूबने वाला है.

Image caption 9//11 को वर्ल्ड ट्रेड सेंटर पर दो विमान एक के बाद एक टकराए थे

हैरी पॉटर की किताबें

पोलैंड में सीआईए की जेल साल 2003 के सितंबर में बंद कर दी गई थी. इसके बाद खालिद शेख मोहम्मद को रोमानिया की राजधानी, बुखारेस्ट की जेल में भेज दिया गया.

खालिद शेख मोहम्मद को हैरी पॉटर सीरीज की किताबें पढ़ने में भी दिलचस्पी थी.

ग्वांतानामो बे में उनके सैन्य वकील जेसन राईट ने एसोसिएटेड प्रेस को बताया कि जब उन्होंने जानना चाहा कि क्या वैक्यूम क्लीनर की डिजाइन मौजूद है, तो उन्हें चुप करा दिया गया.

( बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकतें हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार