'मृत' व्यक्ति ने जीत ली मेयर की कुर्सी

  • 12 जुलाई 2013
मेक्सिको
Image caption लेनिन ने गैंगरेप के आरोप से बचने के लिए खुद को मृत घोषित कर दिया था.

मैक्सिको में अधिकारियों ने कहा है कि 2010 में 'मृत' घोषित किए जा चुके एक शख्स ने राज्य के क़स्बे में मेयर पद का चुनाव जीत लिया है.

कानून और प्रशासन को चकमा देने वाले इस शख़्स का नाम है लेनिन करबेलिदो. उन्होंने मेयर पद का चुनाव सन आगस्टिन अमातेंगो शहर से जीता है.

चुनाव प्रचार के लिए लेनिन ने अपने पोस्टर लिखा था - विकास के लिए प्रयासरत

हालांकि, इस मामले में पुलिस का कहना है कि साल 2010 में जब लेनिन करबेलिदो पर एक गैंगरेप से संबंधित मुकदमा चल रहा था तो उनके परिवार ने मृत्यु प्रमाणपत्र पेश कर ये साबित करने की कोशश की थी कि लेनिन की मौत हो चुकी है.

फर्जी प्रमाणपत्र

अब अभियोजन पक्ष उनके फर्जी मृत्यु प्रमाणपत्र की जांच पड़ताल कर रहा है.

उधर लेनिन की वामपंथी पार्टी डेमोक्रेटिक रेवोल्यूशन पार्टी ने कहा, “इस उम्मीदवार ने पार्टी को बेवकूफ बनाया है इसलिए अब उन्हें मेयर पद पर काम करने की इजाजत नहीं दी जाएगी.”

पीआरडी के रे मोरैल का कहना है, “उम्मीदवार के रूप में अपना पंजीकरण करवाते वक्त उन्होंने अपने सारे जरूरी कागजात जमा किए थे. उनका कोई आपराधिक रिकार्ड नहीं है, इसका प्रमाण पत्र और जन्म प्रमाणपत्र दोनों इसमें शामिल थे.”

उन्होंने आगे कहा, “लेनिन ने अदालत को धोखा दिया, रिकार्ड कार्यालय को बेवकूफ बनाया और चुनाव अधिकारियों को अंधेरे में रखा.”

स्थानीय मीडिया की सूचना के अनुसार मृत्यु प्रमाणपत्र में कहा गया है कि उनकी मौत कोमा में चले जाने के बाद ‘प्राकृतिक कारणों’ से हुई.

इस प्रमाणपत्र पर किसी डॉक्टर के हस्ताक्षर भी हैं. इसे किसी स्थानीय रिकार्ड ऑफिसर ने जारी किया है.

अधिकारियों का कहना है कि गैंगरेप के मामले में उन पर फिर से मुकदमा शुरु हो सकता है.

( बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकतें हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)