सैमसंग को रिकॉर्डतोड़ मुनाफ़ा

  • 26 जुलाई 2013
सैमसंग

सैमसंग इलेक्ट्रॉनिक्स ने पहली तिमाही में रिकॉर्ड मुनाफ़ा दर्ज किया है. सैमसंग के मुनाफ़े में बढ़ोतरी स्मार्टफ़ोन की बढ़ती बिक्री और सैमसंग के टीवी बनाने वाले डिसप्ले पैनल डिविज़न की कमाई बढ़ने की वजह से हुई है.

सैमसंग को अप्रैल से जून की तिमाही में सात अरब डॉलर यानी क़रीब 41 हज़ार 300 करोड़ रुपए का शुद्ध मुनाफ़ा हुआ है, जो पिछले साल के मुक़ाबले 50% ज़्यादा है.

Image caption सैमसंग के गैलेक्सी सीरीज़ के फोन ने एपल के आइफोन को कड़ी टक्कर दी है

सैमसंग का कहना है कि गैलेक्सी-एस4 जैसे नए मॉडल के लॉन्च की वजह से अप्रैल-जून के बीच स्मार्टफ़ोन की बिक्री बढ़ी. लेकिन सैमसंग को अंदेशा है कि स्मार्टफ़ोन का कारोबार मंदा पड़ सकता है.

सैमसंग के इन्वेस्टर रिलेशंस के प्रमुख रॉबर्ट यी का कहना हैं, “आईटी उद्योग के लिए ये अच्छा समय है इसलिए हम आमदनी में बढ़ोतरी जारी रहने की उम्मीद कर सकते हैं लेकिन यूरोप में मंदी से उबरने में देरी और स्मार्टफ़ोन में बढ़ती प्रतियोगिता को नज़रंदाज़ नहीं किया जा सकता.”

‘बड़ा सवाल’

स्मार्टफ़ोन कारोबार की कामयाबी से ही नोकिया को बेदख़ल कर सैमसंग फ़ोन बनाने वाली सबसे बड़ी कंपनी बनी.

बाज़ार में सैमसंग की हिस्सेदारी तेज़ी से बढ़ी है. रिसर्च फ़र्म स्ट्रैटजी एनालिटिक्स के मुताबिक़ एंड्रॉइड स्मार्टफ़ोन सेक्टर में होने वाले मुनाफ़े का 95% सैमसंग को जाता है.

हालांकि बीते कुछ हफ्तों में कई विश्लेषकों ने ये सवाल उठाया है कि क्या सैमसंग वाकई इतनी ऊंची आमदनी को बरक़रार रख सकती है?

विश्लेषकों का मानना है कि ज़्यादा प्रतियोगिता, अहम बाज़ारों में और ज़्यादा बिक्री की गुंजाइश न होना और चीन के सस्ते फ़ोन सैमसंग के सामने बड़ी चुनौती है.

कई विश्लेषकों को डर है कि सैमसंग को अपने उत्पादों की क़ीमत कम करनी होगी और इससे कंपनी की आमदनी गिर सकती है.

(बीबीसी हिंदी का एंड्रॉयड मोबाइल ऐप डाउनलोड करने के लिए यहां क्लिक करें. आप ख़बरें पढ़ने और अपनी राय देने के लिए हमारे फ़ेसबुक पन्ने पर भी आ सकते हैं और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार