पाकिस्तान में 13 बस यात्रियों की हत्या

पाकिस्तानी सेना
Image caption सूचना है कि सैनिकों को चरमपंथियों ने बंधक बना लिया था

पाकिस्तान के बलोचिस्तान प्रांत में बंदूकधारियों ने कम से कम 13 बस यात्रियों की गोली मार कर हत्या कर दी है. अधिकारियों ने इसकी पुष्टि की है.

बलोचिस्तान के अलगाववादियों ने बीबीसी को बताया है कि उन्होंने पंजाब जा रही बस से 23 यात्रियों को अगवा कर लिया था, जिनमें से 13 की गोली मार कर हत्या कर दी गई.

अलगाववादियों का आरोप है कि मारे गए लोगों का संबंध सेना या सुरक्षाबलों से था. इन लोगों के शव बलोचिस्तान की राजधानी क्वेटा से 70 किलोमीटर दूर एक खाई से बरामद हुए.

अलगाववादी बलोच लिबरेशन आर्मी के एक प्रवक्ता मीरक बलोच ने समाचार एजेंसी एएफ़पी से बातचीत में हत्याओं की ज़िम्मेदारी ली है.

उनके हवाले से ये कहा गया है, "ये 13 लोग या तो सेना के कर्मचारी थे या अन्य सुरक्षा संस्थानों से जुड़े हुए थे."

एक अन्य घटना में उत्तरी पाकिस्तान के चिलास में सेना के दो अधिकारी और एक पुलिसकर्मी मारा गया है. पाकिस्तानी तालिबान ने इस हमले की ज़िम्मेदारी ली है.

घटना

Image caption बलोच अलगाववादी इलाक़े में काफ़ी सक्रिय हैं

ये घटना सोमवार रात को बलोचिस्तान की राजधानी क्वेटा से 50 किलोमीटर दक्षिण पूर्व में स्थित माच इलाक़े में हुई.

बलोचिस्तान शिया और सुन्नी हिंसा के अलावा बलोच अलगाववादियों के विद्रोह का भी केंद्र रहा है.

बलोच ज़्यादा स्वायत्तता चाहते हैं और प्राकृतिक संसाधनों में हिस्सा भी मांगते हैं.

रेडियो पाकिस्तान के मुताबिक़ पाकिस्तान के राष्ट्रपति आसिफ़ अली ज़रदारी ने हमले की आलोचना की है और स्थानीय अधिकारियों को कड़ी कार्रवाई का आदेश दिया है.

(क्या आपने बीबीसी हिन्दी का नया एंड्रॉएड मोबाइल ऐप देखा? डाउनलोड करने के लिए यहां क्लिक करें. आप ख़बरें पढ़ने और अपनी राय देने के लिए हमारे फेसबुक पन्ने पर भी आ सकते हैं और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)