पाकिस्तान: आत्मघाती धमाके में 29 की मौत

पाकिस्तान के दक्षिण पश्चिमी शहर क्वेटा में हुए एक बम धमाके में कम से कम 29 लोग मारे गए हैं और 50 से ज़्यादा ज़ख्मी हो गए हैं. ये धमाका एक पुलिसकर्मी के जनाज़े के वक्त हुआ. मरनेवालों में एक वरिष्ठ पुलिस अधिकारी भी शामिल हैं.

एक पुलिस अधिकारी मीर ज़ुबैर महमूद के मुताबिक आत्मघाती हमलावर ने जनाज़ा निकलने से ठीक पहले मस्जिद के बाहर धमाका कर दिया.

उन्होंने बताया कि मारे गए लोगों में बलूचिस्तान में पुलिस अभियान के प्रमुख पुलिस अधिकारी भी शामिल हैं.

घटनास्थल पर मौजूद समाचार एजेंसी रॉयटर्स के एक संवाददाता के मुताबिक धमाके के बाद जनाज़े के स्थान पर अफ़रातफ़री का माहौल था और खून से लथपथ पुलिस अधिकारियों को एंबुलेंस में ले जाया जा रहा था.

मारे गए लोगों में कुछ बच्चे भी हैं जो जनाज़े में शामिल होने गए थे.

मस्जिद के बाहर धमाका

न्यूज एजेंसी रॉयटर्स के मुताबिक बम निरोधक दस्ते के एक सदस्य ने बताया कि आत्मघाती हमलावर ने बॉल बियरिंग और छर्रों से लैस जैकेट पहन रखी थी.

Image caption धमाके में मारे गए लोगों के परिजन विलाप करते हुए.

हमलावर ने खुद को ठीक उस समय मस्जिद के बाहर उड़ा दिया जब वरिष्ठ अधिकारी गुरुवार को गोलीबारी में मारे गए अपने साथी पुलिसकर्मियों को श्रद्धांजलि देने के लिए कतार में खड़े हुए थे.

अभी तक ये जानकारी नहीं मिल सकी है कि धमाके के पीछे किसका हाथ है.

बलूचिस्तान प्रांत की राजधानी क्वेटा में तालिबान समेत कई चरमपंथी, सांप्रदायिक और अलगाववादी समूह सक्रिय हैं.

पाकिस्तान में मई में हुए चुनाव के बाद नवाज़ शरीफ़ की सरकार बनने के बाद से कई हमले हुए हैं जिनमें सुक्कुर में सैनिक खुफिया मुख्यालय में हुआ हमला और जेल ब्रेक की घटना भी शामिल है जिसमें 250 कै़दी फ़रार हो गए थे.

(आप ख़बरें पढ़ने और अपनी राय देने के लिए हमारे फेसबुक पन्ने पर भी आ सकते हैं और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार