मुफ्त फ़ोन की लूट में हुए घायल

फ़ोन निर्माता कंपनी एलजी का कहना है कि उनके नए फ़ोन जी2 के प्रमोशन के लिए हुए स्टंट के दौरान 20 लोग घायल हो गए और सात को अस्पताल भेजा गया है.

दक्षिण कोरिया की राजधानी सोल में शुक्रवार को हुई इस घटना के बाद एलजी ने जी2 फ़ोन के प्रमोशन के लिए पहले से तय कार्यक्रम रद्द कर दिए.

हीलियम से भरे गुब्बारों में रखे स्मार्टफ़ोन के वाउचर पाने के लिए लोग चिड़िया मारने वाली बंदूक, छुरियां और छड़ियां लेकर पहुंच गए.

एलजी ने इस घटना की ज़िम्मेदारी ली है और कहा है कि वह लोगों का अस्पताल का खर्च उठाएगी.

कंपनी की तरफ से कहा गया, "एलजी इलेक्ट्रॉनिक्स को इस बात का बहुत खेद है कि प्रमोशन के लिए सोल में खुले में हुए कार्यक्रम में कई लोग घायल हो गए."

'कार्यक्रम रद्द'

कंपनी की तरफ से जारी विज्ञप्ति में कहा गया है, " हालांकि कोई भी गंभीर रूप से घायल नहीं है फिर भी हम सात लोगों के अस्पताल में भर्ती होने की पुष्टि करते हैं.एलजी दुर्घटना की पूरी ज़िम्मेदारी लेता है और सभी संबंधित अस्पताल के खर्चे उठाने का प्रस्ताव रखता है."

विज्ञप्ति में यह भी कहा गया है कि, "ऐसा भविष्य में ना हो इसलिए एलजी इस घटना की जांच कर रहा है."

कंपनी ने इस बात की पुष्टि की है कि सुरक्षा कारणों को देखते हुए अन्य तय कार्यक्रम रद्द कर दिए गए हैं.

दरअसल एलजी ने 100 हीलियम भरे गुब्बारे हवा में छोड़े थे. हर गुब्बारे में फ़ोन का मुफ़्त वाउचर था. कार्यक्रम को "जी इन द क्लाउड" कहा जा रहा था. यह कार्यक्रम दक्षिण कोरिया की राजधानी सोल के एक पार्क में आयोजित किया गया था.

वाउचर पाने की होड़

कंपनी का कहना है कि जिस व्यक्ति को यह वाउचर मिलता उसे यह फ़ोन मुफ्त दिया जाता.

फ़ोन पाने के लिए वहां पहुंचे लोग बीबी गन लेकर पहुँच गए जिससे वह हवा में गुब्बारे उड़ाए जाने पर उन्हें फोड़ कर वाउचर पा सकें.

एक व्यक्ति इस काम के लिए अपने कर्मचारियों को लेकर वहां पहुंच गया.

एक क्षेत्रीय टीवी चैनल ने इस घटना को दिखाने के लिए अपने कार्यक्रम का नाम फिल्म "वर्ल्ड वॉर ज़ेड" से मिलता हुआ "वर्ल्ड वॉर जी".

वर्ल्ड वॉर ज़ेड में ज़ोंबी लोग एक दूसरे को धक्का देते हुए एक दीवार पर चढ़ने की कोशिश करते हैं.

इस हैंडसेट को पिछले हफ्ते न्यूयॉर्क में बाज़ार में उतरा गया था. इससे पहले सोशल मीडिया पर इसकी ख़ूब चर्चा हुई थी.

(बीबीसी हिंदी का एंड्रॉयड मोबाइल ऐप डाउनलोड करने के लिए क्लिक करें. आप ख़बरें पढ़ने और अपनी राय देने के लिए हमारे फ़ेसबुक पन्ने पर भी आ सकते हैं और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार