ट्विटर पर गए 'तलब मिटाने', चढ़े पुलिस के हत्थे

Image caption कनाडा के टोरंटो शहर में एक व्यक्ति को ट्विटर पर चरस भरी सिगरेट मांगने पर नौकरी से हाथ धोना पड़ा है.

खास दोस्तों के बीच हँसी-मजाक तो ठीक है लेकिन सोशल मीडिया पर हँसी-मजाक भारी भी पड़ सकता है.

कनाडा के टोरंटो में एक कार सर्विस सेंटर मिस्टर ल्यूब के मैकेनिक ने जो ट्वीट किया उससे उनकी नौकरी चली गई.

सुनीथ बहिराथन नाम के इन मैकेनिक ने ट्वीट किया था, "क्या कोई डीलर वॉन में ड्रग्स पहुँचा सकता है? कील/लैंगस्टाफ में मिस्टर ल्यूब में आ जाइए, काम के बोझ को दूर करने के लिए चरस की एक या दो सिगरेट की ज़रूरत है."

दिलचस्प बात ये रही कि उनके इस ट्वीट को सबसे पहले स्थानीय पुलिस ने रिट्वीट किया. पुलिस ने लिखा, “कमाल है! क्या हम भी आ सकते हैं?”

ये ट्वीट कॉन्स्टेबल ब्लेयर मैक्लिन ने किया था.

मैक्लिन ने समाचार एजेंसी एएफपी को बताया, "पुलिस चाहती थी कि लोग ये जानें कि वो इंटरनेट की निगरानी करते हैं और लोग ट्विटर पर जो लिख रहे हैं, उसके लिए उन्हें जिम्मेदार ठहराया जा सकता है. इसलिए हमने अपराध रोकने के लिए

थोड़ी हल्का तरीका अपनाने के बारे में सोचा."

Image caption ट्विटर पर रिट्वीट करते हुए स्थानीय पुलिस ने लिखा कि क्या हम भी आ सकते हैं.

उन्होंने कहा, “हम जानते हैं कि ‘ड्रग्स का सेवन न करें’ जैसे संदेश ऑनलाइन नेटवर्क में गुम हो जाएंगे, इसलिए हमने मजाकिया अंदाज में लोगों के साथ बातचीत में शामिल होने और यह बताने का फैसला किया कि हम केवल वर्दीधारी ही नहीं हैं.”

समाचार एजेंसी एएफपी के मुताबिक सुनीथ बहिराथन और पुलिस के ट्वीट जल्द ही इंटरनेट पर काफी लोकप्रिय हो गए और इन्हें 3 हज़ार से ज़्यादा बार रिट्वीट किया गया.

मिस्टर ल्यूब सर्विस सेंटर के मालिक ने सीबीसी न्यूज को बताया कि सुनीथ बहिराथन को नौकरी से निकाल दिया गया है.

चली गई नौकरी

सुनीथ बहिराथन ने पहले तो ट्विटर फीड को बदला और फिर उसे डिलीट कर दिया.

सुनीथ बहिराथन ने अपनी प्रोफाइल में लिखा कि “मेरा ट्वीट किसी भी सूरत में गंभीर नहीं है.” लेकिन इसके बावजूद उन्हें अपनी नौकरी से हाथ धोना पड़ा.

मिस्टर ल्यूब सर्विस सेंटर के मालिक ने कहा कि 'अब मामला हल हो गया है.'

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए यहां क्लिक करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार