किशोरों ने बोरियत भगाने के लिए कर दी हत्या

Image caption लेन विश्वविद्यालय में अंतिम वर्ष के छात्र थे

अमरीका के ओकलाहोमा राज्य में तीन किशोरों पर एक ऑस्ट्रेलियाई व्यक्ति की हत्या का अभियोग लगाया गया है. इन किशोरों ने ऑस्ट्रेलियाई व्यक्ति की उस वक्त हत्या कर दी जब वो सड़क पर टहल रहे थे.

कॉलेज की बेसबाल टीम के खिलाड़ी क्रिस्टोफर लेन की हत्या की ये घटना गत शुक्रवार को डंकन शहर में हुई.

पुलिस का कहना है कि अभियुक्तों में से एक ने जांचकर्ताओं को बताया कि उन लोगों ने 22 वर्षीय ऑस्ट्रेलियाई व्यक्ति की हत्या महज हँसी-मज़ाक में कर डाली.

तीनों में से दो अभियुक्तों के खिलाफ हत्या का अभियोग लगाया गया है.

मेलबर्न के रहने वाले ऑस्ट्रेलियाई नागरिक लेन ईस्ट सेंट्रल विश्वविद्यालय में अंतिम वर्ष के छात्र थे और वो अपनी महिला मित्र के घर से लौट रहे थे.

डंगन शहर के पुलिस प्रमुख डेनी फोर्ड का कहना है कि तीनों में से एक अभियुक्त ने अपना अपराध स्वीकार किर लिया है.

मस्ती के लिए हत्या

फोर्ड का कहना था, ”जिस बच्चे ने हमसे बात की, उसका कहना था कि हम लोगों के पास कोई काम नहीं था जिसकी वजह से हम बोर हो गए थे. इसलिए हमने तय किया गया कि हमें किसी की हत्या करनी है.”

Image caption लेन की महिला मित्र ने घटनास्थल पर उन्हें श्रद्धांजलि दी

वहां मौजूद लोगों ने लेन को बचाऩे की कोई कोशिश नहीं की, जबकि इलाके में करीब 24 हजार लोग रहते हैं.

अन्य अभियुक्तों की उम्र 15 साल और 16 साल की है. पुलिस का कहना है कि उसे अभी तक किसी ऐसे हथियार का पता नहीं चला है जिससे कि साबित हो कि इसी से बुजर्ग की हत्या करनी है.

वहीं मारे गए व्यक्ति के पिता पीटेर लेन का कहना है कि उनके बेटे की मौत के बारे में कोई जानकारी नहीं दी गई है.

ऑस्ट्रेलियाई टेलीविजन चैनल स्काई न्यूज से उन्होंने कहा, “यह बहुत निर्दयतापूर्ण कार्रवाई है.”

वहीं एक अन्य अभियुक्त की मां का कहना है कि वो इस बात पर विश्वास ही नहीं कर पा रही हैं कि उनके बेटे ने ऐसा काम किया है.

उनका कहना था, “मैंने तीन बजे अपना काम खत्म किया. मुझे घर तक पहुंचने में तीन मिनट लगते हैं और वो उस समय घर पर था. फिर ऐसा कब हो सकता है, समझ में नहीं आता.”

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड मोबाइल ऐप के लिए क्लिक करें ? आप हमारे फेसबुक पन्ने पर भी आ सकते हैं और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार