ब्रिटेन के चर्चित प्रसारक सर डेविड फ़्रॉस्ट नहीं रहे

  • 1 सितंबर 2013
डेविड फ़्रॉस्ट

ब्रिटेन के चर्चित प्रसारक सर डेविड फ़्रॉस्ट का 74 वर्ष की उम्र में निधन हो गया है.

माना जा रहा है कि उनकी मौत दिल का दौरा पड़ने से हुई, उस समय वे एक क्रूज़ जहाज़ पर सवार थे. परिवार की ओर से जारी बयान में कहा गया है कि उस समय वे एक भाषण दे रहे थे.

सर डेविड का करियर पत्रकारिता के अलावा कॉमेडी लेखन और टेलीविज़न प्रस्तुति से भी जुड़ा हुआ है. जिनमें उनका चर्चित कार्यक्रम द फ्रॉस्ट शो भी शामिल है.

अंतरराष्ट्रीय स्तर पर उनकी चर्चा उस ख़ास इंटरव्यू के लिए होती है, जो उन्होंने अमरीका के पूर्व राष्ट्रपति रिचर्ड निक्सन के साथ किया था.

उनकी मौत पर आए एक बयान में कहा गया है, "उनके परिजन इससे सदमे में हैं. वे चाहते हैं कि इस कठिन घड़ी में उनकी प्राइवेसी का सम्मान किया जाए. निकट भविष्य में उनका अंतिम संस्कार किया जाएगा और प्रार्थना सभा के बारे में जानकारी आने वाले समय में दी जाएगी."

कमी

बीबीसी के बार्ने जोन्स ने ब्रेकफ़ास्ट विद फ्रॉस्ट कार्यक्रम का संपादन 10 वर्षों से ज़्यादा समय तक किया था. उन्होंने कहा, "डेविड ब्रॉडकास्टिंग से प्यार करते थे. उन्होंने 50 वर्षों से ज़्यादा समय तक इसे बेहतरीन तरीक़े से निभाया. वे आने वाले समय में कई और कार्यक्रमों पर काम कर रहे थे, जिनमें अगले सप्ताह प्रधानमंत्री का इंटरव्यू भी शामिल था. हमें उनकी काफ़ी कमी महसूस होगी."

ब्रिटेन के प्रधानमंत्री डेविड कैमरन ने कहा, "सर डेविड एक असाधारण व्यक्ति थे. उनका व्यक्तित्व प्रभावशाली था, उनमें प्रतिभा थी, बुद्धिमत्ता थी और उतना ही जोश था. उन्होंने टेलीविज़न और राजनीति पर गहरा प्रभाव छोड़ा."

केन्ट में जन्मे सर डेविड फ्रॉस्ट ने कैम्ब्रिज यूनिवर्सिटी से पढ़ाई की. वहाँ वे फुटलाइट्स क्लब के सेक्रेटरी बने और इस दौरान उनकी मुलाक़ात कॉमेडी जगत के भविष्य के सितारों पीटर कुक, ग्राहम चैपमैन और जॉन बर्ड से हुई.

यूनिवर्सिटी के बाद उन्होंने आईटीवी के लिए काम किया और फिर बीबीसी के बहुचर्चित कार्यक्रम दैट वॉज द वीक दैट वॉज से जुड़े, जो 1962 से 1963 तक चला. सप्ताह भर की ख़बरों पर व्यंग्यपूर्ण अंदाज़ से नज़र रखने वाला ये कार्यक्रम काफ़ी लोकप्रिय हुआ. इस शो ने जॉन चीज़, जॉन बेट्जेमैन और डेनिस पॉटर जैसे प्रतिष्ठिक पटकथा लेखकों को जन्म दिया.

लोकप्रियता

Image caption डेविड फ़्रॉस्ट का बीबीसी पर शो काफ़ी चर्चित रहा

डेविड फ़्रॉस्ट का ख़ास अंदाज़ में 'हैलो, गुड इवनिंग एंड वेलकम' कहना भी काफ़ी लोकप्रिय हुआ और अब तो ये काफ़ी इस्तेमाल भी होता है.

आईटीवी पर द फ्रॉस्ट प्रोग्राम कॉमेडी और व्यंग्य से अलग एक गंभीर किस्म का कार्यक्रम बनकर उभरा, जिसमें राजनेताओं, राजपरिवार के लोग और सेलिब्रिटी लोगों का इंटरव्यू होता था.

इसी कार्यक्रम के दौरान सर फ़्रॉस्ट ने फॉकलैंड युद्ध के बारे में तत्कालीन प्रधानमंत्री मारग्रेट थैचर का इंटरव्यू किया, जिसमें संघर्ष के दौरान अर्जेंटीना के जहाज़ बेलग्रानो के डूबने पर सवाल-जवाब हुए.

इसी दौरान सर डेविड फ़्रॉस्ट ने अमरीका में द डेविड फ्रॉस्ट शो पर काम करना शुरू किया. इसी कार्यक्रम के दौरान उन्होंने अमरीका के पूर्व राष्ट्रपति रिचर्ड निक्सन का इंटरव्यू किया, जो कई सिरीज़ में प्रसारित हुआ.

इस इंटरव्यू में उन्होंने रिचर्ड निक्सन को वॉटरगेट स्कैंडल पर घेरा और इस इंटरव्यू के दौरान निक्सन जनता से माफ़ी मांगने के काफ़ी क़रीब आ गए थे. ये इंटरव्यू इतना चर्चित हुआ कि इस पर एक फ़िल्म भी बनी, जिसका नाम था फ़्रॉस्ट/निक्सन.

वर्ष 1993 में उन्होंने ब्रेकफ़ास्ट विद फ़्रॉस्ट शुरू किया, जो पहले आईटीवी पर आया, लेकिन बाद में बीबीसी के संडे शो के रूप में काफ़ी चर्चित हुआ. वर्ष 2006 में वे अल जज़ीरा से जुड़ गए.

(क्या आपने बीबीसी हिन्दी का नया एंड्रॉएड मोबाइल ऐप देखा? डाउनलोड करने के लिए यहां क्लिक करें. आप ख़बरें पढ़ने और अपनी राय देने के लिए हमारे फेसबुक पन्ने पर भी आ सकते हैं और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार