कितनी पुरानी है मिस्र की प्राचीन सभ्यता?

  • 6 सितंबर 2013
प्राचीन मिस्र
Image caption प्राचीन मिस्र में राजशाही की शुरूआत जल्दी हो गई थी.

ब्रिटेन के वैज्ञानिकों के एक दल के मुताबिक़ मिस्र की प्राचीन सभ्यता के काल के बारे में कुछ नए तथ्य सामने आए हैं.

उस दल के अनुसार प्राचीन मिस्र में एक कृषि प्रधान समाज को राजशाही बनने में उतना समय नहीं लगा था जितना कि अबतक अनुमान लगाया जाता रहा है.

रेडियोकार्बन डेटिंग और कम्प्यूटर के इस्तेमाल से वैज्ञानिक इस नतीजे पर पहुंचे हैं कि प्राचीन मिस्र सभ्यता के पहले शासक 'राजा अहा' लगभग 3110 ईसा पूर्व में सत्ता पर आसीन हुए थे.

उनका ये शोध 'प्रोसीडिंग्स ऑफ़ द रॉयल सोसाइटी' ए में प्रकाशित हुआ है.

दल के प्रमुख शोधकर्ता डॉक्टर माइकल डी का कहना था, ''प्राचीन मिस्र का गठन अपने आप में एक विशिष्ट घटना थी. बहुत कम समय में ही उसने अपनी सीमाएं को उसी तरह फैला लिया था जैसा कि आधुनिक समय में राज्य करते हैं.''

प्रथम राजघराना

प्राचीन मिस्र के समय सारिणी के बारे में अब तक जो भी जानकारी उपलब्ध थी वे सब अनुमान पर आधारित थीं.

लिखित रिकॉर्ड नहीं होने के कारण उनके ज़रिए इस्तेमाल किए गए बर्तनों के आधार पर ही उनके काल का अनुमान लगाया जाता रहा है.

लेकिन अब वैज्ञानिकों ने उस समय रहने वाले लोगों के बालों, हड्डियों, पौधों की रेडियोकार्बन डेटिंग और पुरातात्विक साक्ष्यों की मदद से ये निर्धारित करने में सफल हुए हैं कि दर असल प्राचीन मिस्र राज्य का गठन कब हुआ था.

पिछले रिकॉर्ड के अनुसार लगभग 4000 ईसा पूर्व में लोग नील नदी के किनारे बसने लगे थे और खेती शुरू हो चुकी थी.

लेकिन अब वैज्ञानिकों का कहना है कि ये प्रक्रिया लगभग तीन सौ साल बाद 3700-3600 ईसा पूर्व में शुरू हुई थी और 3100 ईसा पूर्व में मिस्र में राजतंत्र की नींव रखी गई थी.

डॉक्टर डी कहते हैं, ''ये बहुत रोचक है ख़ासकर अगर आप दूसरी सभ्यताओं से इसकी तुलना करें. मिसाल के तौर पर मेसोपोटामिया हज़ारों साल तक एक कृषि प्रधान समाज था उसके बाद ही वो एक आधुनिक राज्य के रूप में उभरा.''

इस दल ने अहा के बाद से मिस्र पर शासन करने वाले सात राजा-रानियों के शासन काल का भी पता लगाया है.

यॉर्क विश्वविद्यालय में पुरातात्विक विभाग के प्रमुख प्रोफ़ेसर जोआन फ़्लेचर के अनुसार, ''ये शोध बहुत ही महत्वपूर्ण है क्योंकि इससे मिस्र के पहले राजाओं के काल के बारे में हमें निश्चित जानकारी मिलती है.''

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए यहां क्लिक करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार