ब्रिटेन की महारानी के महल में कौन ?

लंदन की मेट्रोपॉलिटन पुलिस का कहना है कि महारानी एलिज़ाबेथ के महल बकिंघम पैलेस से एक संदिग्ध चोर को गिरफ़्तार किया गया है.ये आदमी चारदीवारी कूद कर महल के अंदर घुस आया था.

पुलिस का कहना है कि इस व्यक्ति को सोमवार को महल के उस इलाक़े में देखा गया था जो फ़िलहाल आम जनता के लिए खुला है.

इसके अलावा एक अन्य व्यक्ति को चोरी की साज़िश रचने के आरोप में महल के बाहर से पकड़ा गया.हालांकि दोनों को बाद में ज़मानत दे दी गई और घटना की समीक्षा की जा रही है.

कार्यवाई

पुलिस प्रवक्ता का कहना है कि जांच जारी है. बकिंघम पैलेस की तरफ़ से इस घटना पर अब तक कोई टिप्पणी नहीं की गई है.

उन्होने बताया कि घटना से जुड़ी कुछ निश्चित परिस्थितियों की समीक्षा की जा रही है. घटना के समय शाही परिवार का कोई भी सदस्य महल में मौजूद नहीं था.

प्रवक्ता का ये भी कहना था कि सुरक्षा भी इस समीक्षा का हिस्सा है.

बकिंघम पैलेस में रानी के तीन आधिकारिक निवास स्थान हैं.साथ ही यह परिवारिक निवास औऱ राजशाही के प्रशासनिक मुख्यालय के तौर पर भी जाना जाता है.

बकिंघम महल की सुरक्षा में कई बार सेध लग चुकी है. इसमें सबसे प्रसिद्ध घटना 1982 की है जब माइकल फ़ैगन महारानी के शयन कक्ष में घुस आए थे.

महारानी जब उठीं तो उन्होने फ़ैगन को अपने पलंग पर बैठे पाया. फ़ैगन की गिरफ़्तारी से पहले दोनों के बीच आधे घंटे तक बातचीत भी चली.

एक बार एक मनोरोगी ने भी महल के अंदर प्रवेश कर लिया था. इसके अलावा परमाणु विरोधी प्रदर्शनों के दौरान प्रदर्शनकारियों का एक समूह सीढ़ी के सहारे चढ़ कर महल के अंदर बाग़ीचे में धरने पर बैठ गया था.

कई टैबलॉय़ड पत्रकार भी महल के भीतर जाने में कामयाब रहे हैं जिसमें डेली मिरर के रिपोर्टर रायन पैरी भी शामिल हैं. रॉयन दो महीने तक एक नौकर के भेष में महल के अंदर काम करते रहे.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए यहां क्लिक करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार