लड़कों के साथ तैराकी पर आपत्ति

जर्मनी की एक अदालत को ये फैसला देना है कि क्या मुस्लिम लड़कियों को लड़कों की मौजूदगी में तैराकी की क्लास से अलग रखा जाना चाहिए.

ये मामला 13 साल की एक लड़की का है, जिसके अभिभावक जोर दे रहे हैं कि वो फ्रेंकफर्त के एक स्कूल में लड़कों की मौजूदगी में तैराकी नहीं सीखे.

कुछ लड़कियां तैराकी के पीरियड में लड़कों के साथ बुर्कीनी नाम का पूरा स्विम सूट पहनकर हिस्सा लेती हैं.

अब कोर्ट पर दारोमदार

लेकिन कुछ अभिभावकों का कहना है कि तैराकी क्लास में लड़के केवल तैराकी नली लगाकर लड़कियों के साथ हिस्सा लेते हैं, जो उन्हें मंज़ूर नहीं.

उम्मीद की जा रही है कि अदालत साफ़ करेगी कि कब धार्मिक वजहों से एक छात्र को स्कूल इवेंट से मुक्त रखा जा सकता है.

इस ताज़ा मामले में वकील तर्क दे रहे हैं कि किस तरह जर्मनी के कुछ कैथोलिक हिस्सों में जिम की पढ़ाई के दौरान लड़के और लड़कियों को अलग रखा जाता है और कुछ सेक्यूलर जिम केवल महिलाओं के लिए हैं.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए यहां क्लिक करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार