अमरीका: नेवी यार्ड गोलीकांड के बंदूकधारी की पहचान

  • 17 सितंबर 2013
अमरीका, वॉशिंगटन, नेवी यार्ड, हमला, फायरिंग, बंदूकधारी

अमरीका के वॉशिंगटन नेवी यार्ड में हुई गोलीबारी में 12 लोगों की जान लेने वाले शख़्स की पहचान कर ली गई है. एरन एलेक्सिस नाम का यह शख़्स भी फ़ायरिंग में मारा गया है. पुलिस दूसरे हमलावर बंदूक़धारी की तलाश कर रही है.

एफ़बीआई ने फ़ोर्ट वर्थ, टैक्सस के रहने वाले एरन एलेक्सिस की पहचान कर ली है. एफ़बीआई के मुताबिक़ 34 साल का एरन 2007 से 2011 के बीच यूएस नेवी में कार्यरत था. वह तीसरे दर्जे का कर्मचारी था.

हालांकि अभी तक सेना को इस सवाल का जवाब नहीं मिला है कि एरन ने सेना क्यों छोड़ी और नेवी यार्ड में कैसे घुसा.

वॉशिंगटन पुलिस प्रमुख ने पत्रकारों को बताया कि पुलिस नेवी यार्ड की इमारत में दूसरे बंदूकधारी की तलाश कर रही है.

सुरक्षा के लिहाज़ से अमरीकी सीनेट की इमारतों और आसपास के स्कूलों को अस्थायी तौर पर खाली कराकर बंद कर दिया गया है.

व्हाइट हाउस में मौजूद राष्ट्रपति बराक ओबामा ने 'एक और मास शूटिंग' पर दुख जताया है और मारे गए लोगों के प्रति संवेदना व्यक्त की है.

दफ़्तर खुलते ही फ़ायरिंग

फ़ायरिंग नेवी यार्ड के सी सिस्टम कमांड हेडक्वार्टर पर स्थानीय समय के मुताबिक़ सुबह आठ बजकर 20 मिनट पर शुरू हुई. तब लोग दफ़्तर पहुंच रहे थे. इसके बाद कई गोलियां चलीं.

नेवी यार्ड में मौजूद लोगों और कर्मचारियों को सुरक्षित स्थानों पर पहुंचाया जा रहा है.

यार्ड में काम करने वाले कुछ कर्मचारियों के मुताबिक़ उन्होंने एक हथियारबंद को निशाना लगाते हुए देखा और इसके बाद भगदड़ मच गई.

भारी तादाद में मौजूद पुलिस ने सी सिस्टम कमांड हेडक्वार्टर पर घेरा डाल रखा है.

यार्ड के नेवी इंस्टेलेशन कमांड में पब्लिक अफ़ेयर्स के डायरेक्टर कैप्टन एड बुकलेटिन का कहना है कि कम से कम आठ लोग ज़ख़्मी हो गए हैं, जिन्हें अस्पताल ले जाया गया है.

बंदूक़धारी नेवी कर्मी

वॉशिंगटन के दक्षिण पश्चिम में मौजूद इस नेवी यार्ड के आसपास दूसरे बंदूक़धारी की तलाश हो रही है.

वॉशिंगटन पुलिस चीफ़ कैथी लेनियर ने मीडिया को बताया कि एक बंदूक़धारी आधी बांह वाली सेना की यूनीफ़ॉर्म में बेरेट हैट लगाए था और उसे आख़िरी बार सुबह 8 बजकर 35 मिनट पर हैंडगन के साथ देखा गया था.

एक काले पुरुष की भी पुलिस को तलाश है जिसकी उम्र क़रीब 50 साल बताई गई है और वह ख़ाकी किट लिए देखा गया था.

सिर और पैर में गोलियां

ओबामा ने इस घटना में मारे गए लोगों के प्रति संवेदना जताई

शहर के मेडस्टार वॉशिंगटन हॉस्पिटल सेंटर की प्रवक्ता ने पत्रकारों को बताया है कि उनके अस्पताल में गोली के शिकार कई लोगों को लाया गया है. डिस्ट्रिक्ट मेयर विंस ग्रे भी मौक़े पर पहुंच गए हैं.

फ़ायरिंग की वारदात में एक वॉशिंगटन डीसी मेट्रोपॉलिटन पुलिस अफ़सर के पैर में कई गोलियां लगी हैं.

इसके अलावा एक महिला नागरिक को सिर और हाथ में गोली लगी हैं और एक अन्य महिला को कंधे में गोली लगी है. जिसका इलाज किया जा रहा है.

चीफ़ मेडिकल ऑफ़िसर जेनिस ऑर्लोस्की के मुताबिक़ अस्पताल लाए गए तीन लोगों की हालत नाज़ुक है, हालांकि उनके बचने की संभावनाएं ज़्यादा हैं.

'मैं बस भाग पड़ी'

चश्मदीद पैट्रीशिया वार्ड ने बताया कि उन्होंने कम से कम सात गोलियां चलने की आवाज़ सुनी. ये आवाज़ें कैफ़ेटेरिया से आ रही थीं. उन्होंने कहा, ''यह इतना जल्दी हुआ कि..मैं बस भागी.''

कमांडर टिम ज्यूरिस वारदात वाली इमारत के चौथे माले पर थे जब उन्होंने गोलियों की आवाज़ें सुनीं.

उन्होंने बीबीसी को बताया, ''असली बंदूक़ के बजाय लगा मानो कोई कैप गन चला रहा है.''

तीन हज़ार कर्मचारी

अमरीकी नौसेना का कहना है कि सभी जवानों को आदेश दिया गया है कि वे सुरक्षित स्थान पर रहें.

मौक़े पर कई आपातकालीन वाहन पहुँच चुके हैं.

अधिकारियों का कहना है कि गोलीबारी जिस नेवल सी सिस्टम्स कमांड हेडक्वार्टर्स में हुई है, वहां क़रीब तीन हज़ार लोग काम करते हैं.

अमरीकी नेवी के अनुसार वॉशिंगटन नेवी यार्ड अमरीकी नौसैनिक का सबसे पुराना ठिकाना है. पहली बार इसे 19वीं शताब्दी में खोला गया था.

(क्या आपने बीबीसी हिन्दी का नया एंड्रॉएड मोबाइल ऐप देखा? डाउनलोड करने के लिए यहां क्लिक करें. आप ख़बरें पढ़ने और अपनी राय देने के लिए हमारे फेसबुक पन्ने पर भी आ सकते हैं और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार