सीरिया ने सौंपी रासायनिक हथियारों की सूची

रासायनिक हथियार, सीरिया

रासायनिक हथियारों पर निगरानी रखने वाली संस्था ऑर्गेनाइजेशन फॉर दि प्रिवेंशन ऑफ केमिकल वेपंस (ओपीसीडब्ल्यू) ने कहा है कि उसे सीरिया से रासायनिक हथियारों की जो सूची चाहिए थी, वो उसे मिल गई है.

इस तरह सीरिया ने ये जानकारी रासायनिक हथियारों पर रूस और अमरीका के बीच हुए समझौते में निर्धारित समयसीमा के भीतर सौंप दी है.

एक अनुमान के मुताबिक सीरिया के पास करीब एक हज़ार टन रासायनिक हथियार हैं.

सीरिया को अपने रासायनिक हथियारों से संबंधित समूचे विवरण को सौंपने की समय सीमा शनिवार तक तय की गई थी.

समझौते के अनुसार सीरिया के सभी रासायनिक हथियारों को 2014 के मध्य तक नष्ट करना है.

ओपीसीडब्ल्यू ने कहा, "हम पुष्टि कर सकते हैं कि सीरियाई सरकार से हमें उसके रासायनिक कार्यक्रम के बारे में जिस सूची की उम्मीद थी वो हमें मिल गई है."

ओपीसीडब्ल्यू के बयान में कहा गया है, "हमारा तकनीकी सचिवालय प्राप्त सूचना का विश्लेषण कर रहा है."

सोमवार को सार्वजनिक हुई संयुक्त राष्ट्र की रिपोर्ट में कहा गया कि सीरिया की राजधानी दमिश्क के घौटा ज़िले में 21 अगस्त को हुए हमले में रासायनिक गैस सारिन का प्रयोग हुआ था. इस घटना में सैकड़ों लोग मारे गए थे.

जिम्मेदार

Image caption सीरिया में हुए रासायनिक हमले में सैकडों लोग मारे गए थे.

संयुक्त राष्ट्र की रिपोर्ट में इन हमलों के लिए किसी को जिम्मेदार नहीं ठहराया गया है.

लेकिन अमरीका, ब्रिटेन और फ्रांस ने 21 अगस्त को हुए इस हमले के लिए राष्ट्रपति बशर अल असद की सरकार को जिम्मेदार ठहराया था.

वहीं सीरिया के राष्ट्रपति बशर अल असद ने इन हमलों के लिए विद्रोहियों को जिम्मेदार बताया.

सीरिया के सहयोगी रूस ने कहा कि उसके पास यह मानने का "पुख्ता आधार" है कि यह हमला सीरियाई विद्रोहियों द्वारा किए गए हैं.

मार्च 2011 में राष्ट्रपति असद के ख़िलाफ शुरू हुए विद्रोह में अब तक करीब 1,00,000 लोगों की जान जा चुकी हैं.

लाखों सीरियाई नागरिक देश छोड़कर जा चुके हैं. सीरिया में व्यापक स्तर पर आंतरिक विस्थापन भी हुआ है.

(बीबीसी हिंदी का एंड्रॉयड मोबाइल ऐप डाउनलोड करने के लिए यहाँ क्लिक करें. आप ख़बरें पढ़ने और अपनी राय देने के लिए हमारे फ़ेसबुक पन्ने पर भी आ सकते हैं और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार