कोरिया को नहीं मिलेगी चीन से हथियार तकनीक

चीन और उत्तर कोरिया
Image caption हाल के समय में चीन और उत्तर कोरिया के रिश्ते तनावपूर्ण रहे हैं

चीन का कहना है कि उसने उत्तर कोरिया को हथियारों से जुड़ी कई ऐसी तकनीकों के निर्यात पर प्रतिबंध लगा दिया है जिनका परमाणु हथियार बनाने में इस्तेमाल किया जा सकता है.

चीन के वाणिज्य मंत्रालय ने इन तकनीकों की एक सूची प्रकाशित की है जिसमें परमाणु विस्फोटक उपकरणों और रॉकेट के पुर्जे़ शामिल हैं.

मंत्रालय के बयान में कहा गया है कि उसके इस क़दम से उत्तर कोरिया पर संयुक्त राष्ट्र के प्रस्तावों पर अमल में मदद मिलेगी और इन्हें तत्काल प्रभाव से लागू कर दिया गया है.

विश्लेषकों का कहना है कि इस प्रतिबंध से पता चलता है कि चीन अपने इस सहयोगी के प्रति लगातार रुख़ कड़ा कर रहा है.

इस सूची में परमाणु, मिसाइल, रासायनिक और जैविक क्षेत्र से जुड़ी तकनीकें शामिल हैं.

तनावपूर्ण संबंध

बयान के मुताबिक़ ये पाबंदी उत्तर कोरिया पर संयुक्त राष्ट्र के कई प्रस्तावों के अनुरूप तैयार की गई हैं.

चीन ही उत्तर कोरिया का इकलौता सहयोगी और बड़ा व्यापारिक साझीदार है.

पश्चिमी देश इससे पहले चीन की आलोचना करते रहे हैं कि वो उत्तर कोरिया के सिलसिले में संयुक्त राष्ट्र के प्रतिबंधों को लागू करने में सहयोग नहीं कर रहा है.

उत्तर कोरिया के विवादास्पद परमाणु कार्यक्रम के चलते उस पर कई तरह के प्रतिबंध लगाए गए हैं.

बीबीसी संवाददाता का कहना है कि हाल के महीनों में चीन और उत्तर कोरिया के संबंध ख़ासे तनावपूर्ण रहे हैं.

मार्च में चीन ने उत्तर कोरिया के ख़िलाफ़ प्रतिबंध कड़े करने के संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद के प्रस्तावों का समर्थन किया. प्रतिबंधों को कड़ा करने के ये क़दम फ़रवरी में उत्तर कोरिया के तीसरे परमाणु परीक्षण के बाद उठाए गए थे.

(बीबीसी हिंदी का एंड्रॉयड मोबाइल ऐप डाउनलोड करने के लिए यहाँ क्लिक करें. आप ख़बरें पढ़ने और अपनी राय देने के लिए हमारे फ़ेसबुक पन्ने पर भी आ सकते हैं और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार