शेयर बाज़ार में सूचीबद्ध होगी ट्विटर कंपनी

Image caption ट्विटर ने कभी मुनाफा नहीं कमाया है, लेकिन उसकी आय लगातार बढ़ती रही है.

सोशल नेटवर्किंग कंपनी ट्विटर ने कहा है कि उसकी योजना शेयर बाज़ार से एक अरब डॉलर की राशि जुटाने की है.

अमरीकी नियामकों को भेजे एक पत्र में सात साल पुरानी इस कंपनी ने कहा है कि उसके 21.8 करोड़ यूज़र्स हैं और हर रोज़ 50 करोड़ ट्वीट भेजे जाते हैं.

इस साल की पहली छमाही में कंपनी को 6.9 करोड़ डॉलर का घाटा हुआ था. इस अवधि में कंपनी की आय 25.4 करोड़ डॉलर थी.

कंपनी की योजना टीडब्लूटीआर सिंबल से ख़ुद को सूचीबद्ध कराने की है.

इस पत्र से पहली बार कंपनी की वित्तीय स्थिति की जानकारी मिलती है.

वैसे तो कंपनी ने कभी भी मुनाफ़ा नहीं कमाया है लेकिन इसकी आय में लगातार वृद्धि दर्ज की गई है.

आय में शानदार वृद्धि

साल 2010 में इसकी आय मात्र 2.8 करोड़ डॉलर थी जबकि 2012 के अंत में यह बढ़कर 31.7 करोड़ डॉलर हो गई.

पिछले साल ट्विटर की क़रीब 85 फ़ीसदी आय विज्ञापनों जबकि बाक़ी की आय डाटा की लाइसेंसिंग से हुई.

हालांकि अभी यह पता नहीं है कि कंपनी किस स्टॉक एक्सचेंज- नैस्डैक या न्यूयार्क में सूचीबद्ध होगी.

साल 2012 में फ़ेसबुक के सूचीबद्ध होने के बाद सिलिकॉन वैली की यह सबसे बड़ी आरंभिक सार्वजनिक निर्गम (आईपीओ) होगी.

कंपनी को मोबाइल डिवाइसों पर विज्ञापन से सबसे ज्यादा कमाई होती है.

साल 2013 में विज्ञापन से कंपनी को होने वाली कमाई का 65 फ़ीसदी हिस्सा मोबाइल डिवाइसों से हासिल हुआ. इसी अवधि में ट्विटर का इस्तेमाल करने वाले 75 फ़ीसदी लोगों ने इसे मोबाइल पर लॉग इन किया.

पत्र से यह भी पता चला है कि कंपनी के दो संस्थापकों इवान विलियम्स और जैक डोर्सी के पास महत्वपूर्ण हिस्सेदारी है. विलियम्स के पास 12 फ़ीसदी जबकि डोर्सी के पास 4.9 फ़ीसदी हिस्सेदारी है.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकतें हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार