अमरीकी केंद्रीय बैंक को 'मिलेगी पहली महिला चेयरमैन'

जेनट येलेन, फ़ेडरल रिज़र्व बैंक

अमरीकी राष्ट्रपति बराक ओबामा जेनट येलन को अमरीकी फ़ेडरल रिज़र्व बैंक की प्रमुख के तौर पर नामांकित करेंगे, व्हाइट हाउस के एक अधिकारी ने ये जानकारी दी है. जेनट येलन अभी फ़ेडरल रिज़र्व बैंक की उप-प्रमुख हैं.

अमरीकी सीनेट से उनकी नियुक्ति की पुष्टि होने के बाद वो बेन बर्नान्के की जगह लेंगी. बर्नान्के पिछले आठ साल से फ़ेडरल रिज़र्व बैंक के प्रमुख हैं.

जेनट येलन बीते दो साल से फ़ेडरल रिज़र्व बैंक की उप प्रमुख हैं और उनकी नियुक्ति की पुष्टि हुई तो वो अमरीकी केंद्रीय बैंक की प्रमुख बनने वाली पहली महिला होंगी.

जेनट येलन हार्वर्ड विश्वविद्यालय और लंदन स्कूल ऑफ इकनॉमिक्स में पढ़ा चुकी हैं. इसके अलावा उन्होंने अमरीकी प्रशासन में कई अहम पद संभाले हैं.

माना जाता है कि जेनेट येलन का ज़ोर बर्नान्के की तरह ही ब्याज दर कम रखकर रोज़गार बढ़ाने पर है, महंगाई की चिंता करने की जगह.

Image caption जेनेट येलन के सामने बड़ी चुनौती ये तय करना है कि बाज़ारों को मदद कब कम की जाए.

जेनेट येलन के नामांकन की संभावना पूर्व वित्त मंत्री लैरी समर्स के नाम वापस लेने के बाद से बनी हुई थी.

जेनेट येलन की नियुक्ति इसलिए भी अहम मानी जा रही है क्योंकि दुनिया के 177 देशों के केंद्रीय बैंकों में 10 फ़ीसदी से भी कम की प्रमुख महिला हैं.

येलेन के पति जॉर्ज एकरलॉफ़ को अर्थशास्त्र का नोबेल पुरस्कार मिल चुका है. उन्होंने जॉर्ज एकरलॉफ़ के साथ मिलकर कई शोध पत्र लिखे हैं. उनके बेटे ब्रिटेन के वॉरविक विश्वविद्यालय में अर्थशास्त्र पढ़ाते हैं.

'गहरा अनुभव'

डेमोक्रेट सीनेटर चार्ल्स शमर का कहना है कि येलन को राजनीतिक समर्थन हासिल है और सीनेट उनकी नियुक्ति की पुष्टि "बड़े अंतर से" करेगी.

वहीं अमरीकी सीनेट की बैंकिंग समिति के चेयरमैन टिम जॉनसन का कहना है कि येलन को "गहरा अनुभव हासिल है.".

येलन का सबसे ताज़ा अकादमिक कार्यानुभव कैलिफ़ोर्निया विश्वविद्यालय के साथ था.

कैलिफ़ोर्निया विश्वविद्यालय में उनके साथ काम कर चुकी लॉरा टायसन ने बीबीसी से कहा कि जेनेट येलन का नामांकन "शानदार ख़बर" है.

लॉरा ने कहा, "वो एक बहुत बढ़िया उम्मीदवार हैं, वो हुनर और अनुभव का शानदार मेल है. ऐसे समय में जबकि मौद्रिक नीति बहुत महत्वपूर्ण है उन्हें पूरी दुनिया में सम्मान हासिल है."

फ़ेडरल रिज़र्व के बोर्ड ऑफ़ गवर्नर के पूर्व सदस्य प्रोफ़ेसर रैंडी क्रोज़नर ने बीबीसी से कहा, "जेनेट येलेन जांची परखी हैं और वो आंकड़ों के आधार पर ये तय करेंगी कि बाज़ारों को मदद कब कम करनी है."

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए यहां क्लिक करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार