नाव दुर्घटना, 27 की मौत, दर्जनों लापता

नाव
Image caption लाम्पेदूज़ा में अभी भी राहत का काम जारी है

भूमध्य सागर में सिसली और ट्यूनीशिया के बीच एक नाव के डूबने से 27 लोगों की मौत हो गई है.

माल्टा के प्रधानमंत्री जोसेफ मस्कट का कहना है कि इस नाव पर 200 से ज्यादा प्रवासी सवार थे और इनमें से 203 को बचा लिया गया है.

इटली और माल्टा के जहाज़ हेलिकॉप्टरों की मदद से घटनास्थल पर राहत काम में जुट गए हैं.

तटरक्षकों का कहना है कि उन्होंने लोगों को बचा लिया गया है लेकिन दर्जनों शव पानी में बहते हुए देखे जा सकते हैं.

घटना

Image caption तटरक्षकों ने अपने अभियानों में सैंकड़ो लोगों की जान बचाई है.

पिछले हफ्ते ही लाम्पेदूज़ा द्वीप के तट के निकट अफ़्रीकी प्रवासियों को ले जा रही एक नाव के डूबने से 300 लोगों की मौत हो गई थी.

वहीं शुक्रवार को इसी क्षेत्र में तटरक्षकों ने अपने तीन अलग-अलग अभियानों में सैंकड़ो लोगों की जान बचाई है.

इस बीच लाम्पेदूज़ा में हुए हादसे में अपने प्रियजनों का गंवा चुके लोग इटली प्रशासन से नाराज़ है. प्रभावित लोगों का कहना है कि इटली प्रशासन उन्हें रिश्तेदारों के शव अंतिम संस्कार के लिए नहीं दे रही है.

इटली की तटरक्षक और माल्टा के अधिकारियों का कहना है कि ये नाव शुक्रवार को लाम्पेदूज़ा से करीब 120 किलोमीटर की दूरी पर डूबी.

दरअसल माल्टा की वायु सेना ने एक नाव को पहले डूबते हुए देखा फिर उसे बचाने के लिए उसने इटली की मदद मांगी.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए यहां क्लिक करें . आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार