मकड़ी के चलते बंद हुआ स्कूल

फ़ॉल्स विडो मकड़ी

ब्रिटेन में पाई जाने वाली सबसे ज़हरीली मकड़ी के डर से एक स्कूल बंद कर देना पड़ा है.

द फ़ॉरेस्ट ऑफ़ डीन स्कूल के अकादमिक डीन का कहना है कि उन्होंने स्कूल के आईसीटी ब्लॉक समेत दूसरी जगहों पर भी 'फ़ॉल्स विडो' नाम की मकड़ियां देखी हैं.

उप-प्रधानाचार्य क्रेग बर्न्स ने बच्चों के माता-पिता को चिट्ठी लिखकर बताया है कि बुधवार को स्कूल में कीटनाशक का छिड़काव किया जाएगा. जिसके चलते स्कूल बंद रहेगा.

संरक्षकों का मानना है कि पर्यावरणीय बदलाव इन मकड़ियों के बाहर नज़र आने की वजह हो सकता है.

स्कूल बंद

अपने पत्र में बर्न्स ने लिखा है कि स्कूल में मकड़ियां दिखने की ख़बर मिलते ही कीड़े-मकोड़े मारने के लिए ज़रूरी सलाह ले ली गई है.

पहले सिर्फ़ आईसीटी ब्लॉक को बंद करने का फ़ैसला किया गया लेकिन स्कूल के दूसरे हिस्सों में भी मकड़ियां होने की ख़बर मिलने के बाद पूरे स्कूल को बंद करने का फ़ैसला लेना पड़ा.

बर्न्स ने लिखा है, ‘‘इससे मकड़ियां मारने के लिए पेस्ट कंट्रोल वालों को छिड़काव करने में मदद मिलेगी और किसी की सेहत को ख़तरा भी नहीं होगा.’’

बर्न्स के पत्र के मुताबिक़, ‘‘ऐसी कोई सूचना नहीं है कि फ़ॉल्स विडो मकड़ियों ने अकादमी में किसी को काटा हो. फिर भी अगर किसी को शक़ है तो वह मेडिकल सलाह ले सकता है.’’

उम्मीद है कि स्कूल गुरुवार को सामान्य रूप से खुलेगा.

फ़ॉल्स विडो

Image caption फ़ॉल्स विडो मकड़ी 1870 से दक्षिण-पश्चिम ब्रिटेन में पाई जाती है

फ़ॉल्स विडो एक सिक्के के आकार की मकड़ी है और ब्रिटेन में पाई जाने वाली 12 सबसे ख़तरनाक मकड़ियों की प्रजातियों में से एक है.

हालांकि इसके काटने से ब्रिटेन में किसी की मौत की कोई ख़बर नहीं है.

अगर यह मकड़ी किसी को काट ले तो उसे सूजन, सीने में दर्द, अंगुलियों में सिहरन हो सकती है लेकिन यह ज़हर की मात्रा पर निर्भर करता है.

ग्लॉस्टरशर के मकड़ी संग्रहकर्ता डेविड हेग कहते हैं कि जो बहुत बदक़िस्मत होंगे उन्हें ही यह मकड़ी काटेगी क्योंकि ये बहुत तेज़ी से नहीं चलती है और ना ही बहुत आक्रामक है.

हेग कहते हैं कि उन्होंने कभी नहीं सुना कि फ़ॉल्स विडो के डर से कोई स्कूल बंद कर दिया गया हो लेकिन मीडिया में इससे जुड़ी ख़बरें आने के बाद से इस मकड़ी को लेकर जानकारी बढ़ गई है.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए यहां क्लिक करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार