करिए 'सबसे डरावने हाइवे' की सैर

ए 75

इसे स्कॉटलैंड का सबसे डरावना हाइवे माना जाता है. डंफ्रीशायर इलाके में ए 75 नाम की इस सड़क पर जितनी पारलौकिक घटनाएं होती हैं उतनी स्कॉटलैंड की अन्य किसी सड़क पर नहीं होतीं.

अब डंफ्रीशायर में पारलौकिक घटनाओं की जांच करनेवाले एक संगठन ने शनिवार की रात इस डरावनी सड़क पर हैलोवीन रोड ट्रिप की योजना बनाई है.

इस हाइवे का एक हिस्सा किनमाउंट कहलाता है और ये पारलौकिक घटनाओं के लिए सबसे ज़्यादा कुख्यात है.

डंफ्रीशायर में पारलौकिक घटनाओं की जांच करनेवाले एक संगठन ‘मोस्टली घोस्टली’ से जुड़े जॉन हिल कहते हैं, “इस जगह पर बहुत कुछ हुआ है. अगर इंटरनेट पर खोजा जाए तो पता चल जाएगा कि ए75 स्कॉटलैंड की सबसे डरावनी सड़क है और कुछ लोग तो कहते हैं कि ये पूरे ब्रिटेन के बारे में भी सच हो सकता है.”

जॉन हिल बताते हैं कि इस सड़क पर तमाम लोगों ने तरह-तरह की घटनाएं देखी हैं.

शोध

Image caption बॉब स्टर्जन बताते हैं कि जब वो सड़क के किनारे नमकीन की दुकान लगाते थे तो डरावनी घटनाएं अक्सर सुनने को मिल जाती थीं.

मोस्टली घोस्टली की संस्थापक कैथलीन क्रोनी के साथ मिलकर जॉन हिल ने इस सड़क पर घटित होने वाली अजीबोग़रीब घटनाओं पर गहन शोध किया है.

उनके पास कई ऐसी हाड़ कंपाने वाली कहानियां हैं.

कैथलीन क्रोनी कहती हैं, “लोगों ने इस सड़क पर चीखती चुड़ैलें, बिना आंखों वाले फैंटम और कई ऐसे जीव देखे हैं जो इस धरती पर नहीं पाए जाते.”

उन्होंने बताया कि सड़क पर देखी गई सबसे भयानक घटना 1962 में डेरेक और नॉर्मन फर्गुसन ने देखी थी.

“वो लोग इस सड़क पर जा रहे थे कि अचानक एक बड़ी मुर्गी उनकी कार के शीशे की तरफ़ आती नज़र आई. उसके बाद उन लोगों ने बड़ी बिल्लियां और कई दूसरे जीव देखे. उन्हें उस यात्रा में एक फ़ैंटम फर्नीचर वैन भी दिखी जो बहुत अजीब बात थी.”

बॉब स्टर्जन ए 75 के पास ही रहते हैं. पहले वो कैरूथर्सटाउन में सड़क के किनारे नमकीन बेचनेवाली वैन लगाया करते थे जो कि सबसे डरावनी जगह के पास का ही इलाका था.

ख़ौफनाक कहानियां

Image caption मोस्टली घोस्टली संस्था की संस्थापक कैथलीन क्रोनी अपने साथियों के साथ शनिवार को इस सड़क पर सफ़र करने वाली हैं.

वो बताते हैं, “शायद ही कभी कोई ऐसा हफ्ता बीतता था कि जब कुछ लोग ऐसी किसी डरावनी घटना के बारे में ना बताते थे.”

रात में डरे हुए लॉरी ड्राइवर परेशानहाल उनकी दुकान पर सुबह सुबह पहुंचते थे और अपनी आपबीती सुनाते थे.

"वो लोग लंबी दूरी के ड्राइवर होते थे और ऐसा नहीं था कि दोस्तों के साथ किसी पब में पार्टी करने के बाद वो कोई कहानी गढ़ देते थे. क्योंकि आपबीती सुनानेवाले लोग आम तौर पर अकेले ही होते थे."

उन्होंने बताया कि एक व्यक्ति तो इतना भयभीत हुआ कि उसने लॉरी चलाना ही छोड़ दिया और दोबारा कभी नज़र नहीं आया.

इस सड़क पर भूत देखे जाने की कहानियों की दर्ज रिपोर्ट कम से कम 50 साल पुरानी है.

शनिवार की रात होनेवाली भूतिया यात्रा वैसे तो हैलोवीन के लिए है लेकिन इसे साल में कई बार दोहराए जाने की योजना है.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए यहां क्लिक करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार