आईफ़ोन की बिक्री बढ़ी, ऐपल का मुनाफ़ा घटा

आईफ़ोन,  ऐपल, मुनाफ़ा

कंप्यूटर और मोबाइल फ़ोन बनाने वाली कंपनी ऐपल ने चौथी तिमाही में साढ़े सात अरब डॉलर मुनाफ़े की घोषणा की है.

हालांकि 26 फ़ीसदी बढ़ोतरी के साथ आईफ़ोन की बिक्री तीन करोड़ 38 लाख डॉलर की हुई, लेकिन लगातार तीसरी तिमाही में मुनाफ़े में कमी आई.

सालाना आधार पर ऐपल का कुल मुनाफ़ा घटकर 37 अरब डॉलर हो गया. 11 साल में यह पहला मौक़ा है, जब कंपनी की सालाना आमदनी में गिरावट दर्ज की गई है.

इसके बावजूद कंपनी के मुख्य कार्यकारी अधिकारी टिम कुक का दावा है कि आमदनी के लिहाज़ से उनकी "कंपनी पहले से कहीं ज़्यादा मज़बूत है".

शेयरधारकों को फ़ायदा

मगर विश्लेषक इस नतीजे से ज़्यादा उत्साहित नहीं हैं. इससे लगता है कि भविष्य में भी ऐपल के मुनाफ़े में गिरावट जारी रह सकती है.

कंपनी ने कहा है कि अगले साल उसे 55 से 58 अरब डॉलर के बीच आमदनी की उम्मीद है और यह भी कि उसके पास 146 अरब डॉलर से ज़्यादा नगदी है जो उसके कोष को बढ़ाती है.

ऐपल ने इस ओर इशारा किया है कि आने वाले हफ़्तों में ये पैसा शेयरधारकों की जेबों में पहुंचेगा.

वित्तीय वेबसाइट द मोटली फ़ूल के इवान नियू कहते हैं, "इस वक़्त लोग ऐपल के नए उत्पाद देखने को उत्सुक हैं. अब नए आईपैड और आईफ़ोन आने वाले हैं. इसलिए आने वाली तिमाही कंपनी के लिए असली इम्तिहान होगी."

मौजूदा तिमाही में हुई कमाई में पहली बार चीन के बाज़ार को ध्यान में रखकर बनाए गए आईफ़ोन 5एस और सस्ते आईफ़ोन 5सी मॉडलों से हुई आमदनी शामिल थी.

कंपनी का कहना है कि कुल मिलाकर पहले सप्ताहांत में ही उसके 90 लाख नए आईफ़ोन बिक गए.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए यहां क्लिक करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार