न्यूज़ीलैंड: भारतीय युवक की पिटाई के बाद मौत

न्यूज़ीलैंड पुलिस

न्यूज़ीलैंड के ऑकलैंड शहर में एक 25 वर्षीय युवक की मौत हो गई.

पेशे से शिक्षक तरुण अस्थाना की ऑकलैंड शहर के एक फ़ास्ट फूड आउटलेट के बाहर एक व्यक्ति से झड़प हो गई थी.

समाचार एजेंसी एपी ने तरुण के दोस्त शैरोन टक के हवाले से बताया कि किसी ने तरुण के मुँह पर घूंसा मारा था.

पुलिस का कहना है कि यह घटना शनिवार सुबह के वक्त हुई और इसके बाद से ही तरुण अस्पताल में जीवन रक्षक प्रणाली पर रखे गए थे.

स्थानीय मीडिया ने पुलिस अधिकारियों के हवाले से कहा मौत के वक्त तरुण के साथ उनके दोस्त और परिवार के लोग मौजूद थे.

न्यूज़ीलैंड में भारतीय समुदाय के लिए निकलने वाले पाक्षिक अखबार इंडियन न्यूज़लिंक के संपादक वेंकट रमन ने बीबीसी को बताया, "पुलिस ने हमलावर को गिरफ़्तार कर लिया था लेकिन बाद में अदालत में पेश किए जाने पर उसे कुछ शर्तों के साथ ज़मानत दे दी गई."

कपड़ों पर टिप्पणी

उन्होंने कहा कि पुलिस ने हमलावर पर अभी अधिक गंभीर धाराएँ नहीं लगाई हैं लेकिन ऐसा किए जाने की संभावना है. अदालत ने हमलावर को 15 नवंबर को अदालत में दोबारा पेश होने का आदेश दिया है.

ख़बरों के मुताबिक हमालवर ने तरुण अस्थाना पर कथित तौर पर उस वक्त हमला किया जब एक महिला उनकी किसी बात पर नाराज़ हो गईं थी.

बताया जाता है कि तरुण ने उस महिला के कपड़ों पर कोई टिप्पणी की थी. घटना के तुरंत बाद तरुण को अस्पताल ले जाया गया.

समाचार एजेंसी पीटीआई ने अस्थाना के मित्रों और जानने वालों के हवाले से कहा है कि वह एक 'अमन पसंद और अच्छा लड़का' था. यूनिवर्सिटी ऑफ़ ऑकलैंड में वह स्कूल टीचर का प्रशिक्षण भी प्राप्त कर रहा था.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार