सीरियाई राष्ट्रीय गठबंधन शांति वार्ता को सशर्त राज़ी

  • 13 नवंबर 2013

सीरिया में प्रमुख विपक्षी गठबंधन का कहना है कि यदि उसकी कुछ शर्तें मान ली जाती हैं तो वो शांति वार्ता में शामिल हो होने को तैयार है.

सीरियाई राष्ट्रीय गठबंधन इस बात की गारंटी चाहता है कि राहत एजेंसियों को प्रतिबंधित क्षेत्रों तक जाने की अनुमति दी जाए. साथ ही गठबंधन इस बात की गारंटी भी चाहता है कि राजनीतिक बंदियों को रिहा किया जाए.

गठबंधन का कहना है कि किसी भी सम्मेलन का राजनीतिक हल निकलना चाहिए.

लेकिन सीरिया के राष्ट्रपति बशर अल-असद जेनेवा में होने वाले सम्मेलन के लिए किसी भी शर्त की मांग को ख़ारिज कर दिया है.

Image caption विपक्षी गठबंधन सीरिया के भविष्य के बारे में बशर अल-असद की भूमिका के खिलाफ है

संयुक्त राष्ट्र, अमरीका और रूस इस कोशिश में लगे हैं कि नवंबर के अंत तक शांति वार्ता आयोजित की जा सके.

लेकिन संयुक्त राष्ट्र और अरब लीग के दूत लखदर ब्राहिमी ने पिछले हफ्ते कहा था कि सम्मेलन में कुछ देरी हो सकती है, हालांकि उन्होंने भी इसी बात पर जोर दिया कि ये सम्मेलन साल के अंत तक हो जाए.

गठबंधन की शर्तें

सीरियाई राष्ट्रीय गठबंधन इस्तांबुल में दो दिनों तक चली बैठक के बाद शांति वार्ता के लिए सशर्त तैयार हुआ है.

गठबंधन के प्रमुख नेता मोंजर अजबिक की ओर से जारी विज्ञप्ति में कहा गया है कि उनकी मांग है कि किसी भी राजनीतिक परिवर्तन में बशर अल-असद को सत्ता से हटना होगा.

उन्होंने कहा, "सीरिया के भविष्य और राजनीतिक संक्रमण के दौरान बशर अल-असद की कोई भूमिका नहीं होगी."

सीरिया में चल रहे संघर्ष को रोकने के लिए लंबे समय से कोशिशें चल रही हैं और इसके लिए जेनेवा में दूसरी बार सम्मेलन करने की कोशिश हो रही है.

सीरियाई सरकार पहले ही शांति वार्ता में शामिल होने की सहमति दे चुकी है.

इसके अलावा में सीरियाई राष्ट्रीय गठबंधन के नेता अहमद जर्बा भी सम्मेलन में आने की अपनी इच्छा ज़ाहिर कर चुके हैं.

मार्च 2011 से चल रहे सीरियाई संघर्ष के चलते अब तक वहां एक लाख लोगों की मौत हो चुकी है.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और क्लिक करें ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार