'हैरी पॉटर एंड द फ़िलासफ़र्स स्टोन सबसे लोकप्रिय'

जे के रॉलिंग हैरी पॉटर

लेखिका जे के रोलिंग की हैरी पॉटर सीरीज की पहली क़िताब 'हैरी पॉटर एंड दी फ़िलासफ़र्स स्टोन' को बच्चों की पसंदीदा क़िताब चुना गया है.

हैरी पॉटर सीरीज की जे के रोलिंग की इस पहली क़िताब ने सुजान कोलिंस की 'दी हंगर गेम्स' और रोल्ड ढाल की दी बीएफ़जी को पछाड़ कर यह खिताब हासिल किया.

चौदह साल की आयु से पहले पढ़ने वाली सर्वश्रेष्ठ क़िताबों के चयन के लिए हर आयु वर्ग के क़रीब 24 हज़ार लोगों ने मतदान किया. इसका आयोजन किया था ब्रितानी संस्था बुकट्रस्ट ने.

शीर्ष पाँच क़िताबें

इस सूची में 'द वेरी हंग्री कैटरपिलर' और 'विनी द पू' शीर्ष पाँच क़िताबों की सूची में शामिल रहीं. वहीं जे आर आर टोलकिन की 'द फेलोशिप ऑफ़ द रिंग' सातवें नंबर पर रही.

इसके अलावा डॉक्टर ज़्यूस की 'द कैट इन द हैट', अमरीकी लेखक ई बी ह्वाइट की शारले वेब और सी एस लेविस की नार्निया काल्पनिक क्लासिक 'द लायन', ' द बिच' और 'द वार्डरोब' को शीर्ष 10 क़िताबों में जगह मिली.

लोकप्रिय क़िताबों पर बनी फ़िल्मों का भी लोगों के मतदान पर असर पड़ा. शीर्ष दस क़िताबों में से नौ पर बहुत अधिक कामयाब फ़िल्में बनी हैं. इनमें हैरी पॉटर श्रृंखला की फ़िल्में भी शामिल हैं.

पाठकों की पीढ़ियां

बुकट्रस्ट के कला विभाग के प्रमुख क्लेयर शहाना ने कहा, ''अब तक के सबसे बड़े साहित्यिक मतदान में बच्चों और वयस्कों ने हैरी पॉटर के लिए उतना मतदान नहीं किया जितना कि होना चाहिए. यह एक वैश्विक परिघटना थी, जिसने पाठकों की पीढ़ियों को प्रभावित किया, जो कि हैरी या हरमायनी को प्यार करते हुए बड़े हुए.''

उन्होंने कहा, ''यहाँ तक की ढाल और टोलकिन जैसे बड़े लेखकों के सामने भी रोलिंग की यह क़िताब कई देशों में पसंदीदा बनी हुई है.''

चिल्ड्रन बुक सप्ताह मनाने के लिए पाठकों को अपने पसंदीदा कहानी की क़िताब के बारे में मतदान करने के लिए कहा गया था.

बुकट्रस्ट के विशेषज्ञों ने पांच सौ क़िताबों के नाम के साथ शुरुआत की. लेकिन मतदान शुरू होने से पहले इसे काट-छांटकर सौ कर दिया गया.

इन क़िताबों को आयु के हिसाब से वर्गीकृत किया गया था. 'हैरी पॉटर एंड द फ़िलासफ़र्स स्टोन' को नौ से 12 साल आयु वर्ग का पुरस्कार मिला. जबकि 'द वेरी हंग्री कैटरपिलर' पाँच साल तक के बच्चों के लिए सर्वश्रेष्ठ क़िताब चुनी गई.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए यहां क्लिक करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार